40 की उम्र में ज़रूर अपनाएं यह सौन्दर्य प्रसाधन

512
beauty tips for your 40s, 40 plus, above 40, after 40 year old woman
image credits: Beverly Hills Beauty Lab

40 की उम्र आते-आते हमारी त्वचा में कई बड़े बदलाव आने लगते हैं। आपकी त्वचा अब धीमी गति से बदलती है। किसी भी तरह की खरोच को ठीक होने में ज़्यादा समय लगता है तथा धुप और जीवन की कई परेशानियों से हमारी त्वचा को बहुत नुकसान हो चूका होता है। (beauty tips for your 40s, 40 plus, above 40, after 40 year old woman)

ये बातें आपको थोड़ी डरावनी लग सकती है पर चिंता न करें; सही समय पर अपनाई सही आदतें आपको इन मुश्किलों से बचा सकती हैं। इनमें शामिल है विशेषज्ञों द्वारा सुझाए गये कुछ ऐसे सौदर्य प्रसाधन जिन्हें आपको 40 की उम्र के बाद ज़रूर अपनाना चाहिए-

 

क्लेंसर

जीवन के हर दशक की तरह ही इस दशक में भी आपकी त्वचा को साफ़ रखना बहुत ज़रूरी है। दिनभर की धुल, प्रदुषण और तेल से आपके रोमछिद्र बंद हो सकते हैं और आपकी त्वचा को ताज़गी से वंचित रख सकते हैं। मेकअप को सही तरह से नहीं निकाला जाए तो यह समस्या और भी बढ़ सकती है।

रात को सोने से पहले सही क्लेंसर का उपयोग कर त्वचा को साफ़ करने से आपकी त्वचा को दिनभर की थकान और क्षति से उभरने का मौका मिल जाता है। ऐसा क्लेंसेर चुनें जो आपकी त्वचा को भरपूर नमी भी दे और अगर विकल्प मौजूद हो तो अन्य पोषक तत्वों से भरपूर क्लेंसर खरीदें।

 

एंटीऑक्सीडेंट सीरम

त्वचा को सुधारने के साथ इसे हो रही क्षति से बचाना भी बहुत ज़रूरी है। यह बचाव करने में आपकी मदद करते हैं एंटीऑक्सीडेंट। इसलिए हमेशा अपने पास एक एंटीऑक्सीडेंट सीरम रखें और ज़रूरत पड़ने पर उपयोग करते रहें।

ऐसा ही कोई सीरम खरीदने जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखना ज़रूरी है- ऐसे ब्रांड चुनें जो आपको प्राकृतिक सामग्रियों से बना सीरम दे रहे हैं। इसके साथ ही सीरम से आपको सूर्य से होने वाले क्षति से बचाव और उम्र के प्रभाव को घटाने के लाभ मिले तो और भी बेहतर।

 

रेटिनॉल

रेटिनॉल को एंटी-एजिंग की सुपर सामग्री कहा जाता है। इसे आप अक्सर एंटी-एजिंग प्रसाधनों में पाएंगे और शायद उपयोग भी कर रहे होंगे। रेटिनॉल के प्रभावों को कई शोधों के द्वारा जांचा गया और यह पाया गया की इसके उपयोग से सूर्य से होने वाली क्षति कम होती, त्वचा गोरी होती है तथा चेहरे पर आए दाग भी गायब हो जाते हैं। त्वचा में कोलेजन की मात्रा बढ़ाकर यह आपको जवां बनाए रखता है और झुर्र्याँ घटाता है। अगर आप इसे पहले से उपयोग नहीं करते हैं तो शुरुआत में थोड़ी मात्रा का ही उपयोग करें। रात में चेहरा धोने के बाद क्रीम लगाने से पहले इसे लगाएं; शुरुआत में हफ्ते में दो ही बार लगाएं फिर धीरे-धीरे बढाएं। अगर आप इसे बहुत ज्यादा उपयोग करेंगे तो इससे कोशिकाओं को बदलने की प्रक्रिया बहुत तेज़ हो जाएगी और आपकी त्वचा फटने लगेगी।

 

एक सौम्य फेस क्रीम 

किसी भी उम्र में फेस क्रीम ज़रूरी होता है। पर आपके 40वे दशक में इसे मॉइस्चराइजर केन्द्रित होना बहुत ज़रूरी है ताकि यह झुर्रियों, धब्बों आदि के विरुद्ध प्रभावी हो सकें। आपको बाज़ार में ऐसे क्रीम के कई विकल्प मिल जाएंगे जो मॉइस्चराइजर के साथ एंटी-एजिंग का लाभ भी दें। इनमें से हर्बल विकल्पों का चुनाव आपको दिन और रात स्वस्थ और मुलायम त्वचा देगा।

 

ऑय क्रीम 

ऑय क्रीम 20 की उम्र के बाद हर किसी भी ब्यूटी रूटीन का ज़रूरी हिस्सा होता है। 40 के बाद ऐसी ऑय क्रीम का चुनाव ज़रूरी होता है जो बढती उम्र के प्रभावों (झुर्रियां, महीन रेखाएं, आँखों के काले घेरे आदि) पर काम करे। ऐसे में आपको ऐसी क्रीम चुनने की ज़रूरत पडती है जो खास आपकी त्वचा के लिए बनी हो।

पेप्टाइड और एंटीऑक्सीडेंट से भरी ऐसी ऑय क्रीम ढूंढें जो आपकी आँखों के आस-पास के हिस्से को भरपूर मॉइस्चराइजड रखे तथा काले घेरे भी मिटाए।

 

जिंक युक्त सनस्क्रीन 

रेटिनॉल के उपयोग के साथ आपको धुप से बचाव की ज़रूरत और भी ज्यादा होती है। क्यूंकि आपकी कोशिकाओं के बनने की गति बढ़ चुकी है, आपके चेहरे पर मृत कोशिकाओं की परत बहुत पतली होती है और आपकी त्वचा को आसानी से क्षति पहुँच सकती है। इससे बचने के लिए आपको सनस्क्रीन की ज़रूरत होगी।

गर्मियों में आपको SPF 50 की ज़रूरत होगी पर अगर आप रेटिनॉल का उपयोग पुरे साल कर रहे हैं तो SPF 30-40 का उपयोग आपको पुरे साल करना चाहिए।