विभिन्न आहार में मिलावट को पहचानें इन तरीकों से

263
spices-for-loosing-weight
image credits: 1mhealthtips.com

आपका आहार कितना शुद्ध है यह जानने के लिए आपको जटिल जांचों की ज़रूरत नहीं। जितना आसान आपके लिए खाने की सामग्री लेना होता है, उतना ही आसान इनकी गुणवत्ता की जांच भी होनी चाहिए। यही वजह है की भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण ने कई ऐसे तरीके सुझाए हैं जो आपको चुटकियों में शुद्ध और अशुद्ध आहार के बीच फर्क बता देंगे।

 

तो आइये जानते हैं गुणवत्ता परखने के ये तरीके-

 

हरी मिर्च पर हरे रंग का छिडकाव 

  • रुई के एक फाहे को पानी या तेल में डुबोएं।
  • अब इस फाहे से मिर्ची की बाहरी सतह रगड़ें।
  • अगर फाहा हरा होने लगे तो मिर्चियों में हरे रंग की मिलावट हुई है।

 

हरी मटर में कृत्रिम रंग की मिलावट 

  • एक कांच के गिलास में मुट्ठी भर मटर डालें।
  • इस गिलास को पानी से भरें तथा मटर और पानी को अच्छी तरह मिला लें।
  • इस पानी को आधा घंटे रखें रहने दें।
  • अगर पानी का रंग हरा होने लगे तो आपके आहार में रंग की मिलावट हुई है।

 

केसर में मक्के की रंगदार तंतु की मिलावट 

  • कृत्रिम केसर को बनाने के लिए मक्के के रेशेदार तन्तुओं को शक्कर में भिगोने के बाद तार का रंग चढाया जाता है।
  • केसर को तोड़ना आसान नहीं होता पर कृत्रिम केसर तुरंत टूट जाती है।
  • एक गिलास पानी में केसर के कुछ रेशे डालें।
  • कृत्रिम केसर तुरंत अपना पूरा रंग छोड़ देगी वहीं शुद्ध केसर धीरे-धीरे तब तक रंग छोड़ेगी जब तक इसे पानी में रखा जाए।

 

नमक में सफ़ेद पाउडर की मिलावट 

  • एक चौथाई चम्मच नमक को एक गिलास में डालें और मिलाएं।
  • शुद्ध नमक तुरंत घुल जाएगा तथा पानी पारदर्शी ही रहेगा वहीं मिलावटी नमक से पानी में मटमैला रंग आ जाएगा।
  • ये मिलावटी तत्व धीरे-धीरे गिलास के तले में भी बैठने लगेंगे।

 

सामान्य नमक और आयोडीन युक्त नमक में फर्क 

  • आलू को बीच से काटिए, इसपर नमक रगड़ें तथा एक मिनट तक इंतज़ार करें।
  • अब इसपर नींबू के रस की कुछ बूँदें डालें।
  • अगर नमक आयोडीन युक्त है तो आलू का रंग गहरा नीला होने लगेगा।
  • सामान्य नमक में आपको कोई फर्क नजर नहीं आएगा।

 

कॉफ़ी में चिकनी मिटटी की मिलावट 

  • एक गिलास पानी में एक चम्मच कॉफ़ी पाउडर डालें।
  • कॉफ़ी शुद्ध होने पर यह पानी की उपरी सतह पर ही तैरती रहेगी।
  • मिलावट होने पर मिटटी के कण धीरे-धीरे गिलास के तले में बैठने लगेंगे।

 

सुपारी पान मसाला में रंग की मिलावट 

  • एक गिलास पानी में एक चम्मच सुपारी पान मसाला डालें।
  • शुद्ध पान मसाला पानी में कोई रंग नहीं छोड़ेगा।
  • मिलावट होने पर पानी का रंग बदलने लगेगा।

 

चाय की पत्ती में बेकार पत्तियों की मिलावट 

  • एक फ़िल्टर पेपर लेकर इसपर थोड़ी चाय पत्ती रखें।
  • ऊपर से थोडा सा पानी छिडकें।
  • नल के नीचे इस पानी को धो लें तथा कागज़ पर आए रंग को देखें।
  • शुद्ध पत्तियां पेपर पर कोई रंग नहीं छोड़ेगी।
  • तार की मिलावट होने पर पेपर पर रंग के धब्बे नजर आने लगेंगे।

यह भी पढ़ें –

  1. ऐसे चेक करें अनाज और मसालों में मिलावट
  2. दूध और तेलों में इस तरह पहचानें मिलावट
  3. त्यौहारों पर होने वाली मिलावट से बचनें के लिए घर पर ही बनाएं गुलाब जामुन
  4. त्यौहारों में बाजार की मिठाईयों की मिलावट ऐसे पहचानें
  5. इन तरीकों से घर पर ही जांच कर मिलावटी खाने से बचें
  6. अपनी इन्द्रियों से जाने खाने की गुणवत्ता