दूसरे देशों की पाकशाला से जानें हेल्दी रेसिपीज़ के गुर

274
different-country-recipes
image credits: The Country Cook

भारत की पाकशाला विविधता और स्वाद से भरपूर है। हम यहाँ कई तरह के मसालों और सेहतवर्धक सब्जियों को खाने में जगह देते हैं जो हमारी आयु बढ़ाने में योगदान दे सकती है। पर इन लाभ के अलावा तेल और घी युक्त हमारा आहार अत्यंत वसायुक्त होता है जो की नुकसानदायक साबित हो सकता है।

 

भारतीय व्यंजनों के अलावा हम अब देश विदेश के व्यंजनों को भी रेस्टोरेंट में चख सकते हैं। ज़रूरी है की हम इन देशों की पाकशाला की अच्छी आदतें भी सीखें तथा बुरी आदतों से दूरी बनाएँ-

 

जापान 

जापान के खाने में सजावट पर ख़ास ध्यान दिया जाता है। खाने की कम मात्रा और मौसमी सब्जियों के लुभावने रंग खाने को देखने में और खाने में मनभावन बनाते हैं और कम मात्रा में ही आपको संतुष्ट करते हैं। इस तरह आप कैलोरीज के सेवन को भी कम कर सकते हैं और पोषण पर ध्यान दे सकते हैं।

जापान की पाकशाला में आप कई तरह की मछलियों का उपयोग देखेंगे। इनमें से कई में मरकरी की मात्रा बहुत होती है जो आपके स्नायु तन्त्र को नुकसान पहुंचाती है। जापान का कोई व्यंजन मंगवा रहे हैं तो मछली से बने व्यंजन का आर्डर देने से बचें।

यह भी पढ़ें – गर्मियों में बच्चों के लिए बनाएं ये हेल्दी व्यंजन

 

चाइना 

चोपस्टिक का उपयोग करने से आप खाने को धीरे-धीरे खाते हैं और अक्सर कम खाते हैं। देखा जाता है की जो लोग तेज़ी से खाना खाते हैं उनमें मोटापे और ह्रदयरोग की संभावना ज्यादा होती है।

चाइना की पाकशाला के कई व्यंजनों में शक्कर का पाक उपयोग किया जाता है जो सेहत के लिए सही नहीं। चाइनिस खाना आर्डर करते समय ऐसे व्यंजनों से बचें।

 

फ्रांस 

एक शोध में पाया गया की फ्रांस में भले ही खाने को सेहत से ज्यादा लुत्फ़ का साधन माना जाता हो, पर इस देश में मोटापे की दर बहुत कम है। वहीं कई और देश जहाँ लोग अपनी सेहत और आहारशैली के प्रति जागरूक हैं, ह्रदयरोग और मोटापे से परेशान रहते हैं। इस शोध से यह निष्कर्ष निकाला गया की लो फैट आहार को भरपूर खाने की जगह स्वादिष्ट भोजन की थोड़ी मात्रा आनंद लेकर खाने से आप ज्यादा सेहतमंद रह सकते हैं।

स्वादिष्ट फ्रेंच व्यंजनों के बीच पेस्ट्रीज खाने से बचें। ये कार्ब्स और फैट से भरपूर होते हैं लेकिन किसी तरह का पोषण नहीं देते। इसकी जगह मीठे के सेहतमंद विकल्प चुनें।

यह भी पढ़ें – जानिए बच्चों के टिफ़िन के लिए रोचक हेल्दी रेसिपीज़, जिससे टिफिन हर बार खाली होकर ही आए

इथियोपिया 

इथियोपिया की पारंपरिक पाकशाला सब्जी, फल्ली और दालों का उपयोग करती है तथा दूध और मांस का उपयोग कम करती है। आप भी इंजेरा जैसी कई इथियोपियन व्यंजनों को घर पर बनाने की कोशिश कर सकते हैं तथा इनके स्वाद का लुत्फ़ उठा सकते हैं।

इथियोपिया में खाने को मिल-बांटकर खाने की दृष्टि से परोसा जाता है जिसकी वजह से खाने की मात्रा पर ध्यान रखना मुश्किल होता है। इस तरीके से बचें और स्वादिष्ट व्यंजनों का आनंद लें।

 

मेक्सिको 

मेक्सिको की पाकशैली में दोपहर के खाने को सबसे भारी और पोषक बनाया जाता है। इस प्रमुख भोजन से आप दिनभर की उर्जा पाते हैं। कई शोध दर्शाते हैं की दोपहर में भारी खाना खाने से आप मोटापे के शिकार होने से बच सकते हैं।

मेक्सिकन व्यंजनों की विधि में आप सब्जियों को बार-बार पकाने के निर्देश पाएँगे। इस तरह से फल्लियों और सब्जियों के फाइबर और पोषक तत्व खत्म होने लगते हैं तथा यह तेलिय हो जाता है। इन व्यंजनों को पकाते हुए इन बातों का ध्यान रखें तथा तेल और नमक की मात्रा कम करें।

मखाने का रायता की हेल्दी रेसिपी