त्वचा पर बढ़ती उम्र के लक्षण आने से पहले ही खत्म करें

616
anti-aging-home-tips
image credits: unknown

उम्र के साथ त्वचा को प्राकृतिक क्षतियों से गुजरना पड़ता है जिनके निशान अक्सर चेहरे पर छूट जाते हैं। (how to control ageing skin naturally in hindi) पर अगर सही जीवनशैली और आहार योजना अपनाई जाए तो इस क्षति को घटाकर लम्बे समय तक जवां दिखा जा सकता है।

 

आइये जानते हैं उम्र के साथ होने वाली क्षति को समय से पहले कैसे ठीक करें-

 

धूप से बचें 

यह सबसे आम सुझाव है जिसे जानकर भी लोग नहीं अपनाते। धूप से त्वचा को बचाकर आप समय से पहले होने वाली एजिंग (और त्वचा के कैंसर) से बच सकते हैं। इस सुझाव को अपने रूटीन में ज़रूर शामिल करें- घर से बाहर निकलने से 10-15 मिनट पहले कम से कम SPF 15 या इससे ज्यादा का ब्रॉड स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन ज़रूर लगाएं। कोशिश करें की लगभग हर 6-8 घंटे में सनस्क्रीन को दुबारा लगाया जा सके।

 

गहरी नींद लें 

नींद के दौरान हमारा शरीर रिपेयर मोड में चला जाता है- त्वचा के साथ बाकी सभी अंगों को दिनभर में हुई क्षति से उबारा जाता है और अगले दिन के लिए तैयार किया जाता है। ज्यादातर क्षतिपूर्ति गहरी नींद में ही होती है इसलिए कोशिश करें की तय समय पर बिस्तर पर पहुचें तथा 6-8 घंटे की गहरी नींद लें।

 

धूम्रपान न करें 

धूम्रपान एजिंग की गति तेज़ कर देता है- निकोटिन त्वचा से ऑक्सीजन चुराने लगता है जिससे इसका लचीलापन खत्म होता है और आप मुरझाए दिखने लगते हैं। शोध बताते हैं की 20 या इससे भी कम उम्र में सिगरेट पीना आपको झुर्रियां दे सकता है।

 

तनाव कम करें 

तनाव में शरीर “लड़ने या भागने” के लिए तैयार रहता है और अंदर से ऐसे होरमोन बनाता है जो सुजन और झुर्रियां पैदा करते हैं। इसके अलावा तनाव से त्वचा में पानी की कमी होती है तथा क्षतिपूर्ति की गति भी कम हो जाती है। इसलिए कोशिश करे की तनाव भरे जीवन से दूर रहा जाए तथा योग, ध्यान आदि से तनाव कम करने की कोशिश की जाए।

 

विटामिन A से भरपूर आहार खाएं 

त्वचा में कोलेजन बनाने और क्षतिपूर्ति करने में विटामिन A का महत्वपूर्ण योगदान है। शरीर में इस ज़रूरी तत्व की पूर्ति करने के लिए आप दूध, मलाई, अंडे, बटर, गाजर आदि का सेवन शुरू करें।

 

स्किनकेयर रूटीन का पालन करें 

त्वचा हमारे शरीर की सबसे बड़ी और सबसे नाज़ुक अंग है। इसलिए आप चाहे उम्र के किसी भी पड़ाव पर हों, टाचा की देखभाल करना बहुत ज़रूरी है। उम्र के हर दशक में आपको एक खास ब्यूटी रूटीन का पालन करना चाहिए जो इस उम्र की खास ज़रूरतों और त्वचा के सामर्थ्य के अनुसार गठित की गयी हो। इसके बाद ज़रूरत होती है सही प्रसाधन चुनने की- कोशिश करें की आपके सौन्दर्य प्रसाधन त्वचा द्वारा आसानी से सोखे जा सकते हों तथा प्रभावी भी हों।

 

एंटीऑक्सीडेंट का सेवन करें 

उम्र के लक्षण दिखने की एक छुपी हुई वजह फ्री रेडिकल भी हो सकते हैं। ये कोलेजन को नुकसान पहुचा सकते हैं और पर्यावरण के कारकों का प्रभाव भी बढ़ा सकते हैं। इनसे निपटने के लिए खाने में भरपूर एंटीऑक्सीडेंट्स शामिल करें। विटामिन C एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है जो आपको टमाटर, ग्रीन टी, अदरक, अंगूर आदि से मिल सकता है। इसके अलावा ताज़े फल और सब्जियों को अपनी थाली में जगह ज़रूर दें।