मानसून में ज़रूरी स्किनकेयर

280
skin-care-in-monsoon
image credits: Fashion101.in

आपका लक्ष्य चाहे खुबसुरत बने रहना हो या फिर फिट रहना, स्किनकेयर आपकी रूटीन का ज़रूरी हिस्सा होना चाहिए। हम सभी की एक स्किनकेयर रूटीन होती है जिसकी मदद से हम त्वचा को साफ़ और खुबसुरत बनाए रखते हैं। लेकिन कम ही लोग जानते हैं की मौसम बदलते ही स्किनकेयर रूटीन में भी बदलाव लाना ज़रूरी हो जाता है। (how to take care of skin in monsoon season, tips, home remedies in hindi, monsoon me skin care)

 

बारिश के इस मौसम में स्किनकेयर रूटीन में किस तरह बदलाव लाया जाना चाहिए, आइये जानते हैं-

 

धूल से बचें 

भारत में बारिश का मौसम अपने साथ तेज़ हवाएं लाता है। हवा चलने पर धूल तेज़ी से उडती और त्वचा पर जमने लगती है। धूल त्वचा को क्षति पहुंचा सकती है जिससे यह मुरझाई और कांतिहीन नजर आने लगती है। इसलिए ज़रूरी है की बाहर से आने के तुरंत बाद त्वचा को अच्छी तरह साफ़ किया जाए। इस तरह आपकी त्वचा भी सांस ले पाएगी और दमकती दिखेगी।

 

अगर आपकी त्वचा शुष्क है, तो इसके लिए क्लींजिंग इतनी ज़रूरी नहीं। लेकिन मानसून में त्वचा को साफ़ रखने के लिए शहद का उपयोग कर सकते हैं। यह एक बेहतरीन क्लेंसेर और मॉइस्चराइजर है जिसे उपयोग कर आप बादाम के साथ एक महीन पेस्ट बना सकते हैं और किसी फेस पैक की तरह चेहरे पर लगा सकते हैं। 5-10  मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धोएं और साफ़, मुलायम त्वचा पाएं।

 

अगर आपकी त्वचा तेलिय या सामान्य है तो इसे नियमित क्लींजिंग की ज़रूरत है। बारिश के मौसम में आपको अक्सर क्लींजिंग करनी पडती है इसलिए अपने लिए एक सौम्य क्लेंसेर चुनें। आप दलिया से बना स्क्रब या पपीता से बना फेस पैक भी उपयोग कर त्वचा को साफ़ और एक्स्फोलीएट कर सकते हैं।

 

छुपे कीटाणुओं से छुटकारा पाएं 

त्वचा को क्लेंस करने के बाद हम इसे मॉइस्चराइज करते हैं लेकिन टोनिंग पर ध्यान नहीं देते। पर टोनिंग के महत्व को कभी कम न आंके, खासकर जब मानसून में हवा और पानी के द्वारा कई तरह के कीटाणु आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। अपने लिए एक कीटाणु-विरोधी टोनर चुनें और इसके उपयोग को रोजाना का नियम बना लें। यह आपकी त्वचा के pH को संतुलित रखेगा तथा मुंहासों से बचाएगा।

शुष्क त्वचा के लिए एक चम्मच दूध में 5 बूँद चमेली का तेल अच्छा टोनर रहेगा।

तेलिय त्वचा के लिए 1 चम्मच पानी में 10 बूँद लैवेंडर का तेल टोन की तरह उपयोग किया जा सकता है।

 

मॉइस्चराइज करें 

मौसम चाहे जो भी हो, कभी भी मॉइस्चराइजिंग न छोड़ें। यह आपकी त्वचा को भरपूर नमी देता है जिससे झुर्रियां, मुंहासे, शुष्कता आदि से बचा जा सकता है। अगर आपकी त्वचा तेलिय है तो अपने लिए एक लोशन-बेस्ड मॉइस्चराइजर या सीरम ढूढें; यह त्वचा को नमी तो देगा लेकिन तेल नहीं।