बच्चों को दूध पीने के लिए मनाने के कुछ कारगार आसान तरीके

2959
milk-options-for-children
image credits: foxnews.com

मशहूर लेखक खालिद होसेनी की एक कहावत है – “Children aren’t coloring books. You don’t get to fill them with your favourite colors.” अर्थात बच्चे रंग भरने वाली किताबे नहीं है, आप उनको अपने मनचाहे रंग से नहीं रंग सकते। बच्चों को समझाना-बुझाना कितना जटिल काम है ये बस वही लोग अच्छे तरीके से समझ सकते जो माँ या पिता बन चुके हैं। बच्चे वो करना चाहते हैं जो उन्हें पसंद होता है लेकिन बच्चे तो बच्चे होते हैं उनकी हर पसंद जरुरी नहीं की उनके लिए सही ही हो। बच्चे खाने- पीने के मामले में भी बहुत ना नुकुर करते हैं। और अगर बात दूध पीने की है तो उनके चेहरे पर 12 बज जाते हैं। दूध का स्वाद और सुगंध बच्चो को पसंद नहीं आता। इसलिए वो दूध पीने से मुकरते है लेकिन अगर आप या तो दूध को जरा मजेदार, स्वादिष्ट और रोचक बना के दें या फिर दूध पिलाने के तरीके को रोचक बना दे तो वो ख़ुशी-ख़ुशी दूध पी लेंगे।

हम आज आपको दूध को मजेदार बनाने के उन तरीको के बारे में बताएँगे जिनको अपनाने से आपके बच्चे बिना किसी दिक्कत दूध पियेंगे।

1. कोल्ड मिल्क विद जेम्स
इसे बनाने की विधि बहुत ही आसान है आवश्यकतानुसार दूध एक ब्लेंडर में बर्फ के टुकडो और बाजार में मिलने वाली रंग बिरंगे चॉकलेट की एक दो टुकड़ों के साथ ब्लेंडर में ब्लेंड कर लें। अपने मन पसंद चॉकलेट के साथ दूध को देखकर बच्चे दूध पीने से कतरायेंगे नहीं।

2. रंग बिरंगे स्ट्रॉ
बच्चों को उनके पसंद के रंग के स्ट्रॉ से दूध पीने दें। आजकल बाजार में तरह तरह के आकर वाले स्ट्रॉ आते हैं। ये आकर्षक स्ट्रॉ बच्चों को दूध पिलाने के लिए मददगार साबित हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें – अपनाएं गाय का दूध और बनाएं अपने शरीर को रोग मुक्त

3. मैंगो शेक/चॉकलेट शेक/ स्ट्रॉबेरी शेक
आम का सीजन है और आम बच्चों को बहुत पसंद होता है। सप्ताह के एक दो दिन आप बच्चों को दूध और आम से बना मैंगो शेक पिला सकते हैं। बच्चें ख़ुशी ख़ुशी मैंगो शेक के नाम पर दूध पी लेंगे।
आप इसी तरह चॉकलेट शेक, स्ट्रॉबेरी शेक या अन्य फलों के शेक भी बना सकते हैं।

4. सुपर हीरोज की शक्ति का राज दूध
बच्चें सुपरहीरोज को बहुत पसंद करते हैं और उन्ही के जैसे बनना चाहते हैं। आप बच्चों को दूध पिलाते समय कहानी गढ़ते हुए ये बताएं की दूध ही उनके सुपरहीरो के शक्ति का राज है। जो दूध नहीं पीते सुपरहीरो नहीं बन पाते। ऐसा करने से भी बच्चे ख़ुशी ख़ुशी दूध पी लेतें हैं।

5. खाने के दूसरी चीजों में मिलाएं दूध
बच्चों को दूध पिलाने का एक और तरीका है रोटी, चावल या अन्य आनाज के साथ दूध मिलकर देना। जैसे कॉर्नफ़्लेक्स के साथ दूध, ओट्स के साथ, खीर इत्यादि।

यह भी पढ़ें – तो ये सारे लाभ होते हैं रोज दूध पीने से

दूध के अन्य विकल्प:
अगर बच्चे बहुत जिद्दी हैं या फिर किसी एलर्जिक कारणवश वो दूध नहीं पी पाते तो आप दूध के इन निम्नलिखित विकल्पों को अपना सकते हैं।

नारियल का दूध:
नारियल के दूध में भी लगभग उतनी ही कैलोरी और कैल्शियम की मात्र होती है जितनी गाय के दूध में। इसमें वसा की मात्रा भी ज्यादा होती है जो बढ़ते बच्चों के लिए आवश्यक होता है।

बादाम (Almond) का दूध
घर पे बना बादाम का दूध भी गाय के दूध का एक अच्छा विकल्प होता है। ये पोषक तो होता ही है साथ ही साथ दिमाग के लिए बहुत ही लाभदायक होता है।
बादाम से दूध निकालने की विधि भी बहुत आसान होती है। छिले हुए बादाम को ब्लेंडर में पानी के साथ ब्लेंड करने पर बादाम का दूध निकल जाता है। इसे स्वादिष्ट बनाने के लिए आप इसमें चॉकलेट पाउडर, कोकोनट सुगर या शहद भी दाल सकते हैं।

चावल से बना दूध:
चावल से बना दूध भी पोषक होता है और गाय के दूध का एक अच्छा विकल्प होता है। चावल से दूध बनाने कि विधि भी आसान होती है।

चावल का दूध बनाने के लिए सामग्री:
आधा कप ब्राउन राईस
8 कप फिल्टर्ड पानी
एक चौथाई कप निम्बू का रस
एक चौथाई कप शहद
एक छोटी चम्मच इलायची पाउडर

चावल का दूध बनाने कि विधि:
चावल को एक ढके बर्तन में पानी के साथ तबतक पकाएं जबतक ये लिजलिजा न हो जाएँ। इसमें एक दो घंटे लगते हैं। चावल जब पूरी तरह तरल हो जाए तो इसमें बाकी सामग्रियां मिलाकर ब्लेंडर में ब्लेंड कर लें। इस मिश्रण को फ्रीज में रख लें। और जब मन चाहें पानी मिलाकर दूध तैयार कर लें।

 

यह भी पढ़ें – मधुमेह में सपरेटा दूध (मक्खन निकला दूध) के फायदे