कईं रोगों की एक औषधि है यह पीपल का पेड़

5964
Peepal ke pedh ke fayde
image credit: hindi.boldsky.com

पीपल के पेड़ को लोग अक्सर देवी -देवताओं और पूजा के साथ जोड़ते है,पर क्या आप जानते है पीपल के पेड़ के कई स्वास्थ्यवर्द्धक फायदे,जो हमारे शरीर के लिए कितने फायदेमंद है। (peepal tree benefits in hindi) यह पेड़ हमारे शरीर को कई बीमारियों से बचाने में तीव्र गति से कार्य करता है। इस पेड़ की छाया में रहने वाले लोग बुद्धिमान, निरोग और अधिक उम्र वाले होते है। यह एक ऐसा पेड़ है,जो 24 घण्टे ऑक्सिजन प्रदान करता है।

 

आइए जनते है पीपल के पेड़ से होने वाले कुछ अहम फायदे–

 

ज्वर/जुखाम– ज्वर(बुखार) में पीपल के पत्ते रामबाण जैसा कार्य करते है। पीपल के पत्तों का चूर्ण शहद के साथ लेने से बुखार में आराम मिलता है। वही जुखाम मे पीपल के 5 पत्तों को दूध में उबाल ले, फिर उसे छान ले और चीनी मिला ले। इसका सुबह-शाम सेवन करने से अत्यधिक लाभ मिलता है।

 

बवासीर- बवासीर को जड़ से खत्म करने के लिए पीपल के पत्तों का सेवन कीजिए। पीपल के पत्तों का पाउडर मट्ठे के साथ लेने से बवासीर का रोग ठीक हो जाता है।

 

पीलिया- पीलिया ग्रसित रोगी के लिए पीपल के पत्ते बहुत अधिक फायदेमंद होते है। इसके लिए आपको 3 पीपल के पत्तों का रस निकालकर,मिश्री के साथ मिला ले। इसका रोज़ नियमित सेवन करने से रोगी को अत्यधिक फायदा मिलता है।

 

त्वचा संबंधी रोग- त्वचा संबंधी रोगों में भी पीपल के पत्तों को फेसपैक के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके इस्तेमाल से चेहरे में झुर्रियां खत्म हो जाती है। इसके लिए आप पीपल के पेड़ की जड़ को पानी में कुछ देर भीगो ले फिर इसको पीस ले और फिर इस पेस्ट को फेस पर लगाए। सूखने पर चेहरा धो ले। इस पैक को नियमित लगाने से चेहरे की झुर्रियां खत्म हो जाती है।

 

दाद व खुजली- दाद व खुजली में भी पीपल के पत्तों को चबाकर सेवन करने से बहुत आराम मिलता है। अथवा इन पत्तों का पेस्ट बनाकर खुजली वाली जगह पर लगाने से भी आराम प्राप्त होता है। साथ ही इन पत्तों से निकलने वाले दूध को फ़टी एड़ियो पर लगाने से भी एड़ियो की समस्या दूर हो जाती है, और एड़िया सामान्य हो जाती है।

 

पेट से जुड़ी समस्याए- पेट के रोग जैसे कब्ज़, गैस,दस्त और पेट दर्द से निजाद पाने के लिए पीपल के पत्ते लाभदायक होते है। इसके लिए पीपल के पत्तों के रस का सुबह-शाम नियमित रूप से सेवन करने पर आराम मिलता है।

 

दांत संबंधी रोग- ज़्यादातर लोगो को दांत की समस्याओं का सामना करना पड़ता है, और इसके लिए वे कई तरह के पेस्ट इस्तमाल करते है, परंतु उससे भी फायदा नही मिल पाता। लेकिन पीपल के पत्तों से आसनी से इस समस्या से छुटकारा मिला सकता है।

 
इसके लिए आपको-

10 ग्राम पीपल की छाल।
2 ग्राम काली मिर्च और कत्थे को बारीक पीसकर मंजन के रूप में इसका प्रयोग करना होगा।

नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर दांतों की समस्या से छुटकारा मिल जाता है।

 

महिलाओं से जुड़ी समस्याएं- पीपल के पत्ते महिलाओं को मासिक धर्म मे होने वाली पीड़ा में राहत देते है। इसके लिए पीपल और इमली की छाल को पानी मे कुछ देर तक डुबा के रख दे । फिर इस काढ़े को नियमित रूप से पियें। इससे जल्द आराम मिलता है। यह काढ़ा यूरिक एसिड का लेवल कम रखता है, और स्तन कैंसर को भी रोकता है।

 

डायबिटीज (मधुमेह)- डायबिटीज सम्भन्धी रोगों को दूर करने के लिए 3 पीपल के पत्ते ,3 अमरूद के पत्ते और 3 आम के पत्ते ले और इनका पेस्ट बनाकर चबा ले। नियमित रूप से सुबह इसका सेवन करने से यह बीमारी से छुटकारा मिलता है।