एक्सरसाइज से पाएं काम और पढ़ाई में गज़ब के फायदे 

200
Image Credits: Consumer Reports

आधुनिक जीवन में ज्यादातर काम में मस्तिष्क के स्वस्थ और तेज़ होने की ज़रूरत होती है। ऐसा दिमाग पाने के लिए आपने कई नुस्खे और सुझाव सुने होंगे। पर क्या आप जानते हैं की सबसे श्रेष्ठ और सस्ता उपाय क्या है? व्यायाम।

चौकाने वाली बात यह है की शरीर को हो रहे लाभ की तरह दिमाग पर व्यायाम के असर को जानने के लिए आपको कई महीनों का इंतज़ार नहीं करना होता। रोजाना कुछ देर व्यायाम करने से आप पाते हैं की कुछ ही दिनों में आप बेहतर तरह से काम करने लगते हैं।

आइये जानें वो अद्भुत लाभ जो आपको स्कूल या ऑफिस में चैंपियन बना सकते हैं-

बेहतर मानसिक स्वास्थ्य 

नियमित व्यायाम से आप अवसाद से बचते हैं, याददाश्त में बेहतरी महसूस करते हैं तथा तेज़ी से सीखते हैं। शोध बताते हैं की अल्झाइमर रोग से बचने या इसे तलने के लिए भी व्यायाम बेहद असरदार है।

व्यायाम से रक्तप्रवाह तेज़ होता है जिससे मस्तिष्क की कोशिकाएं बनती हैं तथा क्षतिपूर्ति होती है। इस तरह कम समय में आपका मस्तिष्क स्वस्थ हो जाता है।

आप खुश रहते हैं 

व्यायाम से शरीर में कई तरह के केमिकल का स्त्राव होता है जो आपके मूड को बेहतर करते हैं, आपको ख़ुशी देते हैं तथा चिंता व् अवसाद को दूर करते हैं। अक्सर हम व्यायाम के स्वास्थ्य लाभ पर ध्यान देते हैं लेकिन इन मानसिक लाभों को भूल जाते हैं।

आप जल्दी बूढ़े नहीं होते 

रोजाना हल्का फुल्का व्यायाम करते रहना आपके जीवन में पांच साल जोड़ सकता है। यह असर सिर्फ आपके शरीर पर नहीं बल्कि आपके मस्तिष्क पर भी होता है। बुढ़ापे से जुड़े अनगिनत रोगों को आप व्यायाम की मदद से दूर रख सकते हैं।

रोगों से लड़े

शोध बताते हैं की नियमित व्यायाम से कई तरह से रोग से बचाव होता है-इनमें अल्झाइमर और कैंसर प्रमुख है। रोजाना कुछ देर जिम में बिताना दिमाग की कोशिकाओं के विकास में मदद करता है जिससे मस्तिष्क का स्वास्थ्य बेहतर होता है।

आत्मविश्वास बढाए 

नियमित व्यायाम से आप ऐसा आत्म विश्वास पाते हैं जिससे रोजाना के मुश्किल कामों को भी आप आसानी से कर सकें। शरीर सुगठित होना एक बात है लेकिन कुछ दिन व्यायाम करने से आप खुद को स्वस्थ और खुबसुरत पाते हैं और जल्द ही कामों में बेहतर होने लगते हैं।

सामाजिक गुण बेहतर करे 

व्यायाम से आप कई सामाजिक गुण भी सीखते हैं जिससे अंततः आप अच्छा स्वास्थ्य और ख़ुशी पाते हैं। अक्सर देखा जाता है की सक्रीय रहने वाले लोग समाज में बेहतर प्रदर्शन कर पाते हैं तथा सहानुभूति व् नेतृत्व जैसे गुण पाते हैं। अगर आप कभी अकेला महसूस करें तो जिम या खेल के मैदान में पहुंचें ; आप बेशक शारीरिक और मानसिक लाभों का आनन्द लेंगे।

कार्यक्षमता बढाए 

अगर आप काम या पढाई में कुछ बेहतरी चाहते हैं तो आधा घंटा अतिरिक्त मेहनत करने की जगह आधा घंटा वर्कआउट करें। हार्वर्ड में हुए एक शोध की मानें तो यह वर्कआउट आपको कम समय में ज्यादा काम कर पाने के लिए ज़रूरी उर्जा और आत्मविश्वास देगा। जल्द ही आप अपने सपनों को पूरा कर पाएँगे।

तनाव कम करे 

कई शोध दिखाते हैं की व्यायाम तनाव कम करता है। अगर आपका शरीर बेहतर महसूस करता है तो आपका दिमाग भी बेहतर महसूस करेगा। यही वजह है की व्यायाम को नियम की तरह अपनाने के साथ ही हफ्ते या महीने में एक बार अपनी देखभाल के लिए कुछ कोशिशे करें।