बालों के झड़ने की समस्या से निजात दिला सकते हैं ये आहार

750
Hair-Loss-cure-acupressure-hindi
image credit: provillushairgrowthtreatment.com

अगर आप बालों के झड़ने की समस्या से परेशान हैं तो आप अकेले नहीं है। उम्र बढ़ने, अनुवांशिक समस्या होने, बीमारी होने या शरीर की मूल ज़रूरतें पूरी न होने की वजह से दुनिया भर में करोड़ों लोग इससे परेशान हैं। आम तौर पर माना जाता है की एक बार बाल झड़ने के बाद दोबारा पहले जितने घने बाल नहीं पाए जा सकते। पर यह सही नहीं हैं। (balanced diet for controlling hair fall)

 

हाल में हुए शोध दिखाते हैं की नीचे दिए आहारों को अपनी थाली में जगह देने पर आप अपने घने बालों को वापस पा सकते हैं-

 

मछली 

बाल प्रोटीन से बने होते हैं। इसका सीधा मतलब है की नए बाल उगाने और पुराने बालों को मजबूत रखने के लिए आपको प्रोटीन की ज़रूरत होगी। इसके अलावा इसकी ज़रूरत केराटिन नामक तत्व के उत्पादन में भी होती है जो बालों की संरचना का मुख्य हिस्सा है।

मछली प्रोटीन युक्त होने के साथ ओमेगा-3 फैटी अम्ल और विटामिन से भरी होती है। इसका सेवन आपको घने और मजबूत बाल पाने में मदद करेगा।

 

शहद 

एक स्टडी के अनुसार सेबोर्रेहिक डर्मेटाइटिस नामक बीमारी, जिसके आम लक्षण पपड़ी बनना, खुजली होना तथा बाल झड़ना होते हैं, में शहद और पानी के मिश्रण को बालों में लगाने पर बाल झड़ने की समस्या से निजात मिलती है। अगर आपको यह रोग नहीं भी हैं तो भी शहद और पानी का मिश्रण बालों में लगाने पर आपके बाल पतले और झड़ते हुए नहीं दिखते।

रोज़ सुबह खाली पेट पानी के साथ शहद का सेवन करने पर पाचन तन्त्र के सभी अंग सक्रीय और सेहतमंद हो जाते हैं। स्वस्थ शरीर होने पर आपके बाल भी स्वस्थ होने लगते हैं।

 

सूखे मेवे और बीज 

2015 में हुए शोध दिखाते हैं की आहार में ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी अम्ल की मात्रा बढ़ा देने पर 6 महीने के अंदर ही बालों की सेहत सुधरने लगती है, इनका विकास बेहतर हो जाता है तथा बालों के झड़ने की समस्या से भी निजात मिलती है।

यह नतीजे आप भी पाना चाहते हैं तो ऐसे मेवे और बीज लें जो ओमेगा-3 और 6 से भरपूर हों। अखरोट, अलसी, सूरजमुखी के बीज और तिल ऐसे ही कुछ आहार हैं।

 

पालक 

देखा जाता है की महिलाओं में उम्र के साथ आयरन और विटामिन D2 की मात्रा कम होती चली जाती है और यही बाल झड़ने का कारण भी बनती है। इस समस्या से निपटने में पालक आपकी मदद कर सकता है।

पालक विटामिन C और लौह तत्वों से भरपूर होता है। यह दोनों ही शरीर को लौह तत्व के लाभ देने के लिए बेहद ज़रूरी तत्व हैं। पालक की अपनी पसंद के अनुसार सब्जी बनाएँ या सलाद/जूस बनाकर लें और अपने बालों को भरपूर पोषण दें।

 

ओएस्टर 

बालों के झड़ने को रोकना हो तो जिंक आपकी बड़ी मदद कर सकता है। हेयर लोस में मरीजों में जिंक की कमी अक्सर देखी जाती है इसलिए जिंक के सेवन पर भी ध्यान देना ज़रूरी है।

खाने में भरपूर जिंक लेना आपके बालों के झड़ने को रोक सकता है। ओएस्टर जिंक से भरपूर होते हैं; साथ ही अखरोट, पालक, अंडे, सूरजमुखी के बीज, मटर आदि में जिंक पाया जाता है।

 

तेल 

कद्दू के बीज, रोजमेरी और नारियल का तेल बालों के लिए अमृत की तरह काम करते हैं। देखा जाता है की इन तेलों का सेवन बालों के विकास को 40 प्रतिशत तक बढ़ा सकता है।

इन्हें आहार में शामिल करने के अलावा लगाया जाना भी ज़रूरी है। नारियल का तेल जहाँ बालों में प्रोटीन लोस को घटाता है वहीं रोजमेरी का तेल रुसी को खत्म करता है।

 

समुद्री सिवार 

देखा जाता है की टुबुलोसा नामक चीनी रेगिस्तानी पौधे और जपोनिका नामक समुद्री सिवार का मिश्रण बनाकर लेने से हल्के हेयर लोस से छुटकारा मिलता है। बाज़ार में इस मिश्रण की टेबलेट भी उपलब्ध होती हैं जो आपको 16 हफ्तों के अंदर 10 प्रतिशत घने बाल देने का दावा करती हैं।

बाल झड़ने के अलावा यह आहार सिर की रुसी और जलन से भी आराम दे सकता है।