करें बवासीर (Piles) का इस तरह घरेलु ईलाज

9042
External-Piles
image credits: www.infohulk.com

पाइल्स या बवासीर ऐसा रोग है जिसे प्रायः लोग बताने से झिझकते है या शर्मिन्दा महसूस करते हैं। चिकित्सीय भाषा में हेमोरोइड्स (Hemorrhoid) के नाम से जाना जानेवाला रोग और रोगीं की तरह ही एक आमरोग है। इस रोग में गुदा मार्ग के समीप घाव हो जाता है जिस से रक्तस्राव भी होता है। ये रोग तकलीफदेह होता है। ये रोग किसी भी उम्र में हो सकता है। अच्छी खबर ये है की ये रोग अपने शुरुवाती दौर में हो तो घरेलु नुस्खों से भी ठीक हो सकता है। हम आज आपको उन्ही घरेलु नुस्खों के बारे में बताएँगे जिनके उपयोग से आप इस तकलीफदेह रोग को दूर कर पायेंगे। (bawasir, bavasir ka ilaj)

1. करेला
बवासीर से राहत के लिए करेले के पत्ते का रस निकाल लें। 1 गिलास बटर मिल्क में इस रस का तीन चम्मच मिलाकर एक महीने तक सुबह सुबह खाली पेट पियें।

2. केला
एक पके केले को एक कप दूध में उबालें और अच्छे से मैश कर लें। इस मिश्रण को रोजाना 3 या 4 बार लें, बवासीर से राहत मिलेगी।

3. सरसों
बवासीर की वजह से हुए रक्तस्राव को ठीक करने के लिए एक चम्मच सरसों का पाउडर बना लें और आधे कप बकरी के दूध में मिला लें । इस पेय को रोजाना सुबह खाली पेट पियें। आप चाहे तो इसमें स्वाद के लिए चीनी भी मिला सकते हैं।

4. शलजम
शलजम के पत्तों से निकले रस से भी बवासीर का उपचार किया जा सकता है। इसके लिए बराबर की मात्रा में गाजर, पालक और शलजम के पत्तों को मिलाकर उनका रस निकालें। दिन भर में 50ml इस रस को पियें।

5. नीम की पत्ती
नीम के पत्तियों के साथ वीटग्रास को उबालें। इस पानी को रोजाना पियें। ये शरीर से सारी गंदगी तो दूर करेगा ही साथ ही साथ बवासीर के लिए भी फायदेमंद होगा।

6. आम की गुठली
आम की सूखी गुठली का पाउडर बना लें। इस पाउडर में दो चम्मच शहद मिलाकर रोजाना दिन में दो बार लें।

7. हल्दी
रोजाना हल्दी की ताज़ी गांठें खाने से भी बवासीर के रोग में राहत मिलती है।

8. प्याज
कद्दूकस किये प्याज में दो चम्मच शहद मिलकर रोजाना लें।

9. नारियल तेल
बवासीर से प्रभावित हिस्से में नारियल का तेल लगाने से राहत मिलती है। इसे रोजाना दो या तीन बार लगाने से खुजली और जलन की समस्या से छुटकारा मिलता है।

10. तुलसी
आधे घंटे तक तुलसी के 5-6 पत्ते एक गिलास पानी में भिगोये रखें। आधे घंटे बाद इस पानी को पी लें।

11. इमली
इमली के फूलों से निकले रस का सेवन करने से भी बवासीर का उपचार किया जाता है।

12. आलू
ताजे आलू को पीसकर प्रभावित जगह पर लगाने से भी बवासीर में राहत मिलती है।