केमिकल पील से पाएं बेदाग त्वचा 

442
Image Credits: Skin Care

केमिकल पील के ज़रिये त्वचा की खूबसूरती को निखारा जा सकता है। इस ट्रीटमेंट में एक केमिकल को आपकी त्वचा पर लगाया जाता है जिससे इसपर हल्के फफोले आ जाती हैं; कुछ समय बाद यह त्वचा किसी पील की तरह निकल आती है और अंदरूनी त्वचा सतह पर आ जाती है। यह नयी त्वचा पहली त्वचा से ज्यादा खुबसूरत कम झुर्रीदार होती है।

इस ट्रीटमेंट को आप अपने चेहरे, गले और हाथों पर ले सकते हैं। इसके कई उपयोग हो सकते हैं-

  • आँखों और मुंह के आस पास आई महीन रेखाओं को खत्म करना
  • धुप और उम्र की वजह से आई झुर्रियों को कम करना
  • चेहरे पर दागों को कम करना
  • कुछ खास तरह के मुंहासों को खत्म करना
  • गर्भावस्था व् गर्भनियोजन दवाओं को लेने से आए धब्बों को दूर करना
  • त्वचा का सौन्दर्य बढ़ाना

आइये, इस ट्रीटमेंट के बारे में और गहराई से जानें-

केमिकल पील किसे करवाना चाहिए?

गोरी त्वचा और कम बालों वाले लोगों के लिए अक्सर यह ट्रीटमेंट बेहतर नतीजे देता है। अगर आपकी रंगत गहरी है तो आपकी समस्या के अनुसार इस ट्रीटमेंट से अच्छे नतीजे पाए जा सकते हैं। लेकिन कई बार आपको चेहरे पर असामान्य रंगत की समस्या भी हो सकती है।

त्वचा में गहरी झुर्रियां व् ढीलापन इस ट्रीटमेंट का असर कम देते हैं। ऐसे में लेज़र ट्रीटमेंट, फेसलिफ्ट, टिश्यू फिलर आदि ट्रीटमेंट लिए जा सकते हैं। कौनसा ट्रीटमेंट लेना सही होगा यह अपने चिकित्सक से चर्चा कर ही तय करें।

ट्रीटमेंट लेने से पहले 

अपने चिकित्सक को पुरानी चोट, निशान, फफोले आदि के बारे में बताएं। साथ ही ट्रीटमेंट लेने से पहले चिकित्सक आपको कुछ दवाओं व् आदतों से दुरी बनाने की सलाह देंगे। हो सकता है आपको कुछ एंटीबायोटिक व् एंटीवायरल ड्रग लेने को भी कहा जाए।

अपने चिकित्सक के साथ बैठकर आपके पील की गहराई भी तय करना ज़रूरी है।

केमिकल पील कैसे की जाती है?

इसे आप किसी डॉक्टर के ऑफिस या सर्जरी सेण्टर से ले सकते हैं। इसके बाद आपको हॉस्पिटल में रुकने की ज़रूरत नहीं होती।

इस ट्रीटमेंट के लिए पहले आपकी त्वचा को पूरी तरह साफ़ किया जाता है। फिर त्वचा पर एक या विभिन्न अम्ल को लगाया जाता है। इसे त्वचा पर छोटे छोटे हिस्से बनाकर किया जाता है ताकि प्रक्रिया नियंत्रित की जा सके। इस तरह नयी त्वचा बाहर आने लगती है।

इस ट्रीटमेंट के दौरान ज्यादातर लोगों को बहुत हल्की जलन महसूस होती है जो पांच से दस मिनट के लिए बरकरार रहती है। अगर ट्रीटमेंट के बाद चुभन महसूस हो तो आप ठंडे पानी की पट्टी कर सकते हैं या फिर दर्द की दवा ले सकते हैं।

ट्रीटमेंट के बाद क्या होगा?

पील के बाद आपकी त्वचा पर लालपन आएगा जिसके बाद धीरे धीरे त्वचा निकलने लगेगी। एक से चार हफ्ते बाद पील ट्रीटमेंट को दुबारा लिया जा सकता है हालाँकि यह अवधि आपके ट्रीटमेंट की गहराई पर निर्भर करेगी।

संभावित जटिलताएं 

कुछ लोगों को पील ट्रीटमेंट के बाद त्वचा की रंगत में बदलाव अनुभव होता है। अगर आप गर्भ्नियोजन की दवा लेते हैं तो इसकी सम्भावना ज्यादा है। अगर किसी भी अन्य कारण से आपके चेहरे पर ट्रीटमेंट के बाद निशान बनते हैं तो इन्हें आसानी से ठीक किया जा सकता है।