हरा धनिया और सूखा धनिया दोनो ही हैं सौंदर्यता बढ़ाने के प्राकृतिक साधन

7738
coriender-powder-leaves-seeds-benefits-in-hindi

धनिया भारतीय रसोईघर में पाया जाने वाले अत्यंत ही खुशबूदरा मसालोँ में से एक मसाला है। धनिया (dhania benefits for kidney, dhania powder benefits in hindi) को विश्वभर में लोग हजारों सालों से अपने रसोईघर में नियमित रूप से इस्तेमाल करते आ रहे हैं। धनिया में पौटेशियम, आयरन विटामिन ए, के तथा सी, फॉलिक एसिड , मैग्नेशियम तथा कैल्शियम अत्यधिक मात्रा में पाए जाते हैं जो निरोग शरीर के लिए अत्यंत ही आवश्यक माने जाते हैं। हम सूखे धनिया के बीजों को पीसकर नियमित रूप से मसाले की तरह प्रयोग में लाते हैं तथा धनिया के ताजे हरे पत्तों को कढी, सलाद, सूप, रायता तथा दालों और सब्जियों में सजाने के तौर पर प्रयोग में लाते हैं। दुनिया भर में धनिया उसमें पाए जाने वाले विभिन्न औषधीय गुणों तथा विशेषताओं के लिए बहुत ही मशहूर है।

आइये हम धनिया के बीजों तथा धनिया के पत्तों में पाए जाने वाले विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य फायदे के बारे में जानें।

सूखा धनिया (धनिया के बीज)

1) त्वचा के लिए उपयोगी है धनिया – धनिया का नियमित सेवन हमारी त्वचा को मुलायम तथा हेल्दी बनाए रखने के लिए अत्यंत ही लाभदायक होता है। यह त्वचा में पायी जाने वाली विभिन्न प्रकार की समस्याएँ ( त्वचा में खुजली होना, सूजन होना, त्वचा पर लाल निशान हो जाना) इत्यादि को दूर करने में बहुत ही प्रभावशाली माना जाता है। यदि आप धनिया के कुछ बीजों को पानी में उबालकर यह पानी ठंडा होने पर इसी पानी से कुल्ला करते हैं तो आपको मुँह के छालों को दूर करने में सहायता प्राप्त होती है तथा उनसे राहत मिलने लगती है।

2) कील मुंहासे दूर करे धनिया – जिन लोगों की त्वचा तैलीय होती है, उन्हें चेहरे पर कील मुंहासों की समस्या का बार बार सामना करना पडता है। आप धनिया के बीजों को पीसकर उसमें थोडी सी शहद तथा थोडी सी हल्दी मिला लें। तथा यह पेस्ट अपने चेहरे पर सुखने तक लगाकर रखें। ठंडे पानी से चेहरा धो लें। धनिया के बीजों में जीवाणु विरोधी गुण पाए जाते हैं। ऐसा करने से चेहरे पर आए हुए मुंहासे तथा काले दागधब्बे दूर होने लगते हैं। धनिया के बीज एक बहुत ही प्रभावशाली रूप से मुंहासों तथा दागधब्बों को दूर करने में सहायक हैँ।

3) बालों का स्वास्थ्य बनाए रखता है धनिया – कई बार हार्मोनल असंतुलन, तनाव तथा असंतुलित आहार का सेवन करने से हमारे बाल गिरने तथा झडने लगते हैं। धनिया के बीज बालों को झडने तथा गिरने से रोकते है तथा जडों को मजबूती प्रदान करते हैं। यदि हमने हमारे बालों के तेल में थोडा से धनिया पावडर डाला तथा उससे अपने बालों के जड़ों में मालिश की तो हमारे बालों को बढने में सहायता होती है तथा बालों की विभिन्न समस्याएँ भी दूर होने लगती है।

4) पाचनशक्ति का सही रूप से संचालन करता है धनिया – धनिया को बीजों मे एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं तथा dietery fiber की भी प्रचुर मात्रा पाई जाती है, जिससे हमारे लीवर को स्वास्थ्य रूप से कार्य करने की क्षमता प्राप्त होती है। धनिया के बीज हमारे शरीर में पाचक रस तथा enzymes का निर्माण करने में मदद करते हैं, जिससे हमारी पाचन क्रिया सही रूप से कार्य करने लगती है तथा धनिया के बीजों को नियमित रूप से खाने से पेट संबंधी समस्याएँ (अपचन, पेट फूल जाना, बदहजमी) दूर होने में काफी मदद मिलती है।

5) धनिया के बीजों का नियमित सेवन करना हमारी आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। इनमें एंटीऑक्सीडंट, विटामिन ए, सी तथा फास्फोरस की अत्याधिक मात्रा पाई जाती है, जिसकी वजह से आंखों की रोशनी बढने में लाभ होता है। धनिया के बीजों को खाने से आंखों में तनाव की मात्रा कम होकर आंखों को आराम प्राप्त होता है।

तो यह हैं धनिया के बीजों को खाने से होनेवाले कुछ लाभ। आइये अब हम देखें की धनिया के पत्तों को नियमित रूप से उपयोग करके हम किस प्रकार अपनी सेहत को स्वास्थ्यवर्धक बना सकते हैं।

1) हरी धनिया को किसी भी व्यंजन में डालने से उस चीज का स्वाद तो बढता ही हैं, लेकिन क्या आप जानते है, की धनिया के पत्तों में विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों का समावेश भी होता है। हरी धनिया में प्रोटीन, वसा, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन सी तथा कैल्शियम, फास्फोरस, आयर्न, कैरोटीन, थियामीन जैसे महत्वपूर्ण खनिज पदार्थ भी पाए जाते हैं जो हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं।

2) त्वचा का स्वास्थ्य सौंदर्य बढाए धनिया – धनिया हमारे चेहरे की सुंदरता को बढाने के लिए भी बहुत ही उपयोगी है, यदि आपके चेहरे पर मुंहासे हैं, तो आप थोडी सी हल्दी लेकर उसे धनिया के रस में मिलाएं तथा उसे चेहरे पर नियमित रूप से लगायें। ऐसा करने से चेहरे पर मुंहासों की समस्या दूर होत जाती है, तथा चेहरा साफसुधरा होने लगता है।

3) धनिया को मासिक धर्म के दौरान होने वाली परेशानियों को दूर करने का एक बहुत ही सर्वोत्तम आसान तथा घरेलू उपाय माना गया है। अक्सर कई लडकियों को मासिक धर्म के दौरान अत्याधिक रक्तस्त्राव होता है तथा पेट में भी बहुत दर्द रहता है। यदि आपने धनिया को पानी में उबालकर वह पानी ठंडा होने पर उसे छानकर पीया तो आपके रक्तस्राव की मात्रा में कमी आने लगती है तथा पेट में होनेवाले असहनीय दर्द से भी राहत मिलने लगती है।

4) नियमित रूप से हरा धनिया खाने से हमारे शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होने लगती है तथा गुड कोलेस्टेरॉल की मात्रा में वृद्धि होने लगती है।

5) हरा धनिया हमारी आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए बहुत ही उपयोगी माना जाता है। धनिया में विभिन्न प्रकार के एंटीऑक्सीडंट पाए जाते हैं जो आंखों से संबंधित समस्याएँ दूर करने में काफी सहायक सिद्ध होते हैं। आंखों में होने वाले संक्रमण को दूर करने के लिए भी धनिया का नियमित सेवन आवश्यक है।