डिप्रेशन महिलाओं को बना सकता है गंभीर बीमारी का शिकार

102
Image Credits: Utica Phoenix

एक ताज़ा शोध के अनुसार, अगर आप महिला हैं और डिप्रेशन से ग्रसित हैं, भले ही आपने अब तक चिकित्सीय सहायता नहीं ली है, तो आप कई गंभीर रोगों की चपेट में आ सकती हैं।

अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन पत्रिका में यह शोध छपा है, जिसमें 45 से 50 साल की 7407 महिलाओं को 20 साल तक देखा गया।

इस शोध के सौरान 43 प्रतिशत महिलाओं में डिप्रेशन के बढ़े स्तर देखे गए, हालाँकि इनमें से सिर्फ आधे ही लोगों ने इस अवस्था का इलाज लिया।

इन महिलाओं में से 63 प्रतिशत, 2035 महिलाओं में गंभीर रोग पैदा हुए।

ऑस्ट्रेलिया की क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के ज़ायलिन ज़ू के अनुसार- इन दिनों कई लोग डायबिटीज, ह्रदयरोग, स्ट्रोक और कैंसर जैसे गंभीर रोगों का सामना कर रहे हैं। हमने इस शोध में महिलाओं में रोगों के विकास और डिप्रेशन के प्रभाव को समझने की कोशिश की।

डिप्रेशन के लक्षण अनुभव करना गंभीर रोग होने की संभावना बढ़ाता हुआ दिख रहा था। ज़ू के मुताबिक जिन महिलाओं ने डिप्रेशन के लक्षण महसूस की उन्हें विभिन्न गंभीर समस्याओं की चपेट में आने की 1.8 गुना ज़्यादा सम्भावना थी।

वहीँ गंभीर रोग होने पर डिप्रेशन के अनुभव की संभावना भी 2.4 गुना ज़्यादा देखि गयी।

देखा गया की जो महिलाऐं इन समस्याओं से पीड़ित है उनमें से ज़्यादातर कम कमाई वाले घर से आती थी, मोटापे से ग्रसित थी, कम सक्रीय रहती थी तथा शराब, सिगरेट का सेवन करती थी।

सही वज़न बरकरार रखना, नियम से व्यायाम करना तथा शरीर को नुक्सान पहुँचाने वाली आदतों से दूर रहना डिप्रेशन और गंभीर समस्याओं से बचने का सबसे अच्छा तरीका देखा गया।