इन आहारों को कभी दोबारा गर्म कर न खाएं 

93
Image Credits: Kek Medicine

हमें अक्सर खाने को गर्मा-गर्म खाने की नसीहत दी जाती है। इस तरह खाने को पचाना आसान होता है तथा खाने का स्वाद भी बेहतर लगता है। पर यह हमेशा सही नहीं; कई आहारों को दोबारा गर्म कर खाना आपके स्वास्थ्य पर नकरात्मक प्रभाव डाल सकता है।

आइये जानते हैं ऐसे ही कुछ आहारों को, जिन्हें आपको कभी दोबारा गर्म करके नहीं खाना चाहिए-

चाय

चाय भारत में हर घर की सुबह और शाम का हिस्सा बन चुकी है। अक्सर कैफीन की मात्रा की वजह से इसे आलोचना का सामना करना पड़ता है लेकिन कम ही लोग जानते हैं की इसमें टेनिक अम्ल पाया जाता है जो शरीर में टोक्सिन का निर्माण करता है।

अगर आप चाय को दोबारा गर्म कर पियेंगे तो इस अम्ल की मात्रा और भी बढ़ जाएगी तथा आपको लीवर की समस्या हो सकती है।

चावल 

चाय की तरह ही चावल को भी पसंद करने वालों की संख्या तथा आलोचना करने वालो की संख्या बराबर है। चावल को पकाने पर इसमें बेसिलस सिरियस बैक्टीरिया पैदा होता हैं। यह चावल को पचाने में मदद करते हैं। पर अगर आप चावल को दोबारा गर्म करेंगे तो इन बैक्टीरिया की तादाद दोगुनी हो जाएगी जिससे आपको डीएसटी और डाईरिया हो सकता है।

पालक 

लौह तत्वों से भरपूर पालक में नाइट्रेट्स की मात्रा भी भरपूर होती है। अगर आप इसे दोबारा पकाकर खाएंगे तो ये घटक ऐसे रूप में बदल जाते हैं जो कार्सिनोजेनिक अर्थात कैंसर पैदा करने वाले होते हैं।

मशरुम 

मशरुम कई लोग स्वाद के कारण पसंद करते हैं वहीं कई लोग इसे पोषक तत्वों के कारण पसंद करते हैं। मशरुम में प्रोटीन की मात्रा ख़ास रूप से ज्यादा होती है। अगर आप इसे दोबारा गर्म करते हैं तो इसमें मौजूद प्रोटीन का कम्पोजीशन बदल जाता है जिससे अपच हो सकता है तथा ह्रदय रोग भी हो सकते हैं।

आलू 

आलू को पकाने पर इसमें बॉटूलिस्म बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। अगर आप आलू से बने व्यंजन को दोबारा गर्म करते हैं तो इन बैक्टीरिया की संख्या और भी बढ़ जाती है जिससे फ़ूड पोइसोनिंग हो सकती हैं।

खाने का तेल 

खाने का तेल ज्यादातर व्यजनों की विधि की ज़रूरी सामग्री है। इसे ही आधार बनाकर हम ज्यादातर आहारों को तैयार करते हैं। ये तेल एल्डिहाइड से बने होते हैं जो की गर्म होने पर अन्य रूपों में बदल जाते हैं। इस तरह तेल को दोबारा गर्म कर सेवन करने से आप कैंसर के खतरे में आ सकते हैं।