जानें अपनी फाइनेंसियल डाइट के बारे में 

134
Image Credits: Kiplinger

आज की तेज़ी से बदलती दुनिया में फिट रहना और वित्तीय रूप से सुरक्षित रहना, दोनों ही ज़रूरी है। सफल होने के लिए आपको सेहत और बजट पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए। दूर से जीवन इन दो महत्वपूर्ण पहलुओं के बीच कोई संबंध नज़र नहीं आता पर अगर गौर करेंगे तो इनसे जुडी बातें बहुत हद तक एक जैसी हैं-

पोषण के पहलु 

हम सभी जानते हैं की हमारे आहार में तीन प्रमुख तत्व होते हैं; कार्ब्स, वसा और प्रोटीन। जानें वित्तीय तौर से इन तत्वों का क्या रूप है और आप इन्हें कैसे समझ सकते हैं-

वसा: वसा लेने से आपके शरीर को उर्जा जमा करने व् विकास करने में मदद होती है।

वित्तीय तौर पर वसा अपने कर्जे और इन्वेस्टमेंट की कुल कीमत के बीच संतुलन बनाना है। यह संतुलन इस बात पर निर्भर करता है की आप बाज़ार में कितना खतरा उठाते हैं, जीवन के लक्ष्य क्या है तथा आपके पास कितना समय है।

कार्ब्स: कार्ब्स ही आपके आहार से आपको उर्जा देते हैं। वित्तीय रूप से इंश्युरेंस और बचत आपको इमरजेंसी के समय में ज़रूरी मदद उपलब्ध करवाती है। इस तरह देखा जाए तो यही आपकी कमाई का वह हिस्सा है जो असल रूप में आपका जीवन सरल करता है।

प्रोटीन : प्रोटीन आपके शरीर में कोशिका विकास के लिए ज़रूरी है। इसी तरह आपको वित्तीय विकास देने के लिए ऐसे इन्वेस्टमेंट की ज़रूरत है जो आपको आने वाले सालों में ज्यादा रिटर्न दें। इसका मतलब यह नहीं की आप कर्जा न लें; कई बार छोटे से कर्जे को लेकर आप इन्वेस्टमेंट का रूप दे सकते हैं।

जिस तरह उम्र के हर दशक में हमारे शरीर की अलग अलग ज़रूरत होती है, उसी तरह स्वयम को वित्तीय तौर पर मजबूत रखने के लिए भी हमें सही चुनाव करने की ज़रूरत है-

20 वे दशक में (जब आप स्वतंत्र और अकेले होते हैं )

  • फिट और उर्जापूर्ण भरे इन सालों में भी नियमित व्यायाम को प्राथमिकता दें।
  • शुरुआत से ही पैसों से जुडी अच्छी आदतें अपनाएं।
  • पैसों से जुड़े लक्ष्य तय करें और स्वंत्रता का उपयोग कर मन में उठने वाली हर इच्छा पूरी करने की कोशिश न करें।
  • म्यूच्यूअल फण्ड में SIP के ज़रिये थोडा थोडा पैसा बचाना शुरू करें।
  • यह ज़रूर करें- एक इमरजेंसी फण्ड की व्यवस्था रखें जिसे आप किसी भी इमरजेंसी में तुरंत उपयोग कर पाएं।

30 वे दशक में (परिवार और बच्चों के साथ)

  • संतुलित आहार और अच्छी आदतों को अपनाएं।
  • इस समय आपकी आय में थोड़ी बढत हो चुकी होगी पर साथ ही आने वाले सालों में बड़ी ज़रूरतों भी आपके सामने आएंगी।
  • सुनिश्चित करें की आपने इंश्युरेस लिया है जो की आपकी गैरमौजूदगी में आपके परिवार की ज़रूरत पूरी कर सकेगा।
  • अपने इमरजेंसी फण्ड में जाने वाले पैसों को और बढाएं।
  • SIP की एक सेवा के ज़रिये आप साल दर साल बचत की मात्रा बढ़ा सकते हैं।
  • बच्चों की पढाई के लिए जितना जल्दी हो सके बचत शुरू करें।

50 व् इससे आगे (रिटायरमेंट की ओर )

  • अपने आहार से कार्ब्स और वसा कम करें व् आहार पर ध्यान दें।
  • जैसे जैसे आप अपने वित्तीय लक्ष्यों के करीब बढ़ रहे हैं, अपनी स्थिति पर नजर डालें।
  • अपने कर्जे को कम करने की कोशिश करें।
  • आप SWP को भी अपना सकते हैं; इस प्लान के ज़रिये बचाए हुए पैसों को आप महीने दर महीने सैलरी की तरह पा सकते हैं।