गर्मियों में करें अपने बगीचे की देखभाल कुछ ऐसे

877
must-have-herbs-in-garden
image credits: SocialMoms

गर्मियों के खुबसुरत फूलों और स्वादिष्ट फलों की बहार के साथ आते हैं बगीचे की देखभाल से जुडी चुनौतियाँ। आपके क्षेत्र के अनुसार गर्मी का मौसम बहुत गर्म, रूखा, नमी से भरा, बादलों भरा या हल्की धूप लिए हो सकता है। (garden care tips in summer season at home in hindi ) इसके अनुसार कभी आपके बगीचे पर कीटों का हमला हो सकता है या फिर पानी की कमी पड़ सकती है।

 

गर्मी के आपके बगीचे के लिए समस्याएँ चाहे जैसी भी हों, इन ज़रूरी कार्यों को करके आप इसे स्वस्थ और खुबसुरत बनाए रख सकते हैं-

 

मुरझाए पत्ते और फूल 

पौधों में लगे मुरझाए फूलों को हटाने से पौधे की उर्जा नए फुल पैदा करने में लग जाती है। सुनिश्चित करें की सालभर फल और फूल देने वाले पौधों से समय-समय पर फल/फुल हटा लिए जाएं और आपका बगीचा हमेशा बहार से भरा रहेगा।

 

कीट प्रबंधन 

जब आप फल, फूल या पट्टी तोड़ रहे हों, पानी डाल रहें हों या खरपतवार हटा रहे हों तो लगातार कीटों की मौजूदगी पर ध्यान देते रहें। यह बहुत ज़रूरी है ताकि किसी तरह की क्षति होने से पहले कीटों को हटाया जा सके। इसी के साथ लाभदायक कीटों को भी पहचानना सीखें तथा इन्हें बगीचे में आमंत्रित करने के तरीके जानें।

 

सब्जियों को सही समय पर तोड़ लें 

आपके बगीचे में लगे टमाटर, ककड़ी, भिन्डी, मिर्ची आदि पौधों से सब्जी को पूरा विकसित होते ही तोड़ लें। इन्हें बहुत दिनों तक पौधे में लगे रहने देने से पौधे की विकास क्षमता कम होने लगती है और कई बार पौधे खत्म भी हो जाते हैं।

 

खरपतवार 

जब पौधे पनपने शुरू होते हैं तब खरपतवार हटाने की ओर ध्यान ज़रूर दें। इसके बाद पौधे के बड़े होने पर इसकी ज्यादा ज़रूरत नहीं पडती क्यूंकि पौधा अपनी जड़ें जमा चूका होता है। अब आप खरपतवार हटाने की गति को धीमा कर सकते हैं, लेकिन फिर भी हफ्ते में एक बार खरपतवार हटाने का नियम ज़रूर बनाएँ।

 

मरे हुए पौधे हटा दें 

अगर कोई पौधा किसी बीमारी के कारण खत्म हो चुका है तो इसे जल्द से जल्द बगीचे से हटा दें। इस तरह बीमारियाँ दुसरे पौधों पर असर नहीं डालेगी। अगर पौधा खाद बनाने के लिए सही है तो इसे कम्पोस्ट बनाने डाल दें पर अगर संक्रमण फ़ैल सकता है तो पौधे को जलाना ही सही विकल्प होगा।

 

खाद और पानी 

आपके बगीचे में पौधे अगर ज़मीन पर हैं तो इन्हें हर हफ्ते एक इंच पानी दें। अगर पौधे गमले में हैं तो इससे ज्यादा की ज़रूरत भी पड़ सकते है। इसके अलावा गर्मी का मौसम स्थाई हो जाने पर खाद डालने की भी व्यवस्था करें। बगीचे में पीले पत्ते आयरन की कमी दिखाते हैं वहीं सब्जियों को अन्य पौधों के मुकाबले ज्यादा खाद की ज़रूरत होती है।

 

पतवार 

पतवार डालना आपके बगीचे में बड़े बदलाव ला सकता है। इनसे मिट्टी सीधी धूप से बचती है तथा नम बनी रहती है। इसलिए नारियल के भूसे, घास या अन्य पत्तों की मदद से पौधों के आस-पास पतवार की मोटी परत बिछाएं तथा इन्हें समय-समय पर बदलते रहें।