म्यूजिक थेरेपी से बीट करें स्ट्रैस को

364
music-therapy
image credits: youtube.com

संगीत हमारे शरीर और मनोदशा पर गहरा प्रभाव डालता है जिसे हर व्यक्ति महसूस कर सकता है। इन्हीं प्रभावों के कारण म्यूजिक थेरेपी का चलन अब बढ़ रहा है जिसमें म्यूजिक की मदद से उपचार किया जाता है। (healing with music therapy theory definition, to beat stress in hindi) इसे तनाव के समाधान के रूप में देखने के अलावा कैंसर और ADD जैसे गंभीर रोगों के इलाज में भी अब उपयोग किया जाने लगा है। देखा जाता है की म्यूजिक थेरेपी रोगी में डिप्रेशन दूर करती है, गतिविधि बढ़ाती है, मन शांत करती है, मांसपेशियों का तनाव घटाती है तथा कोशिकाओं के निर्माण में मदद करती है। इस थेरेपी के अन्य लाभों को भी समझने की कोशिश शोधों द्वारा की जा रही है।

 

आइये हम भी जानें म्यूजिक थेरपी के लाभ-

 

ब्रेन वेव्स 

संगीत पर किए शोध दिखाते हैं की बीट के साथ हमारी दिमाग की तरंगें सामंजस्य बैठाने की की कोशिश करती है। इसी तरह जब गाने की धुन या बीट तेज़ हो यह दिमाग के लिए एक व्यायाम का काम करती है तथा ध्यान बेहतर करती है। धीमी धुन के गानों से मन एक शांत स्थिति में चला जाता है। साथ ही यह भी पाया की इस गाने सुनने से मन शांत स्थिति और सतर्कता की स्थिति के बीच तेज़ी से बदलाव कर पाता है। जाहीर है, गाना बंद करने पर भी संगीत के लाभ खत्म नहीं होते।

स्ट्रैस मैनेजमेंट- अपनाएं यह आसानी से किए जाने वाले उपाय और रहें स्ट्रैस फ्री

साँसें और धडकन 

दिमागी तरंगों में बदलाव आने पर शारीरिक रूप से भी कई बदलाव आते हैं। आपके स्नायु तन्त्र में आए बदलाव सांस और धडकन की गति को भी बदल सकते हैं। इस तरह संगीत सुनने पर आपकी सांसे धीमी चलती है, धडकन धीमी हो जाती है, मन शांत हो जाता है तथा शरीर पूरी कुशलता से काम करने लगता है। यही वजह है की गंभीर तनाव से गुज़ार रहे लोगों के लिए म्यूजिक थेरेपी एक वरदान की तरह ही है।

 

मनोदशा 

संगीत का उपयोग आप विचारों को सकरात्मक बनाने के लिए कर सकते हैं। यह तनाव और घबराहट को आपको दूर रख आनन्द का अनुभव करवा सकता है। धुन के साथ शब्दों के द्वारा दिए जाने वाले सकरात्मक संदेशों को दिमाग जल्द अपनाता है तथा मन की नई दशा का निर्माण करता है। इस तरह तनाव को खत्म किया जा सकता है, शारीरिक तकलीफों को कम किया जा सकता है तथा मन में आशा और कला के बीज बोये जा सकते हैं।

 

अन्य लाभ 

संगीत कई और लाभ भी दे सकता है। यह आपके रक्त चाप को कुछ ही मिनटों में कम कर सकते है तथा हार्ट अटैक व् स्ट्रोक का खतरा कम कर सकता है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है, मांसपेशियों का तनाव खत्म करता है तथा रोगों को लक्षण से राहत देता है। इन सभी लाभों को देखकर हम समझ सकते हैं की म्यूजिक थेरेपी से हर कोई लाभ ले सकता है।

तनाव के कारण शरीर पर होता है गंभीर दुष्प्रभाव

आप म्यूजिक थेरेपी को कैसे अपना सकते हैं?

इन सभी लाभों के साथ आज म्यूजिक थेरेपी का उपयोग तेज़ी से बढ़ रहा है। किसी विशेषज्ञ से यह थेरेपी लेने के लिए अपने नज़दीकी थेरेपी सेण्टर पर जाएँ या अपने चिकित्सक से चर्चा करें। इसके अलावा आप इंटरनेट पर ऐसी कई प्लेलिस्ट पा सकते हैं जो आपके रोजाना के जीवन में आपकी मदद कर सकती है। ध्यान, पढाई, काम या आराम, हर कार्य के लिए आपको प्लेलिस्ट मिल सकती है जिसे सुनकर आप अपनी क्षमता बढ़ा सकते हैं। लेकिन कुछ सावधानियाँ बरतनी भी ज़रूरी होगी, किसी तरह की मशीन का उपयोग करते हुए या ड्राइव करते हुए नींद या ध्यान से जुडी प्लेलिस्ट न सुनें।