वेट लॉस में मदद करें ये 11 हाई कैलोरी फूड्स

2209
body-fat-side-effects-weight-loss
image credit: http://i.ebayimg.com/

आजकल अधिकतर लोग मोटापा या यू कहें कि वजन के बढ़ने से परेशान है। इसके लिए लोग न जाने कितने ही सारे उपाय करते है जैसे कि जिम जाना, कम खाना, व्यायाम करना इत्यादि इत्यादि। लोगो का यह नजरिया कि कम खाने से वेट लॉस होता है, बिलकुल ही गलत है क्योकि कम खाने के चक्कर में लोग हैल्दी खाना, खाना छोड़ देते है।

 

सही नजरिया यह है कि वजन घटाने के लिए ऐसा आहार चाहिए जिससे जरुरी ऊर्जा भी मिलती रहे, शरीर के आवश्यक पोषिक तत्व जैसे कि फैट और प्रोटीन भी मिलती रहे, अनावश्यक फैट्स तथा अधिक कोलेस्ट्रॉल भी ना बड़े और भूख भी कम लगे। ऐसे आहार के लिए हाई कैलोरी फूड्स बेहतर विकल्प है।

 

रुकिए! आप यही सोच रहे है कि हाई कैलोरी फूड्स कैसे वेट लॉस में मदद कर सकते है, है ना? तो सबसे पहले हमें हाई कैलोरी फूड्स का सही अर्थ समझना होगा। हाई कैलोरी अर्थात जरूरत से भी अधिक ऊर्जा और यह अनावश्यक ऊर्जा ही हमारे शरीर में फैट की तरह जमा हो जाती है जो वजन बढ़ाने का कारक बनती है।

 

यदि हम केवल कार्बोहायड्रेटयुक्त पदार्थो का ही सेवन करें जो हमें केवल ऊर्जा ही प्रदान करती है तो थोड़े समय के बाद हमें फिर से भूख लगने लगती है क्योंकि इसके साथ हम शरीर के लिए आवश्यक प्रोटीनयुक्त तथा फैटयुक्त फूड्स का सेवन नहीं करते क्योकि ऐसे फूड्स यदि ऊर्जा ख़त्म हो जाए तो प्रोटीन और फैट्स का उपयोग ऊर्जा उत्पन्न करने के लिए करते है जिससे हमें ऊर्जा प्राप्त करने के लिए बार बार भोजन करने की आवश्यकता नहीं पड़ती तथा यह मेटाबोलिज्म में सुधार कर अधिक कैलोरीस को बर्न भी करते हैं।

 

यह जाहिर सी बात है कि यदि बार बार भूख लगेगी तो हम अधिक भोजन का उपयोग करेंगे और वह भी वह ऊर्जा पाने के लिए जो हमें एक बार खाना खाने से मिल सकती है यदि भोजन लो कार्बोहाइड्रेटयुक्त तथा मध्यम फैटयुक्त हो तो, परन्तु बार बार भोजन करने से हम आवश्यकता से भी अधिक ऊर्जा का संचय करने लगते है और यह अधिक ऊर्जा वजन बढ़ाने का कारक बन जाती है। इसलिए हमें अपने आहार में ऐसे फूड्स का इस्तेमाल करना चाहिए जो हमारे शरीर के लिए जरुरी प्रोटीन और फैट्स भी प्रदान करें और आवश्यक ऊर्जा भी देते रहे और वो भी लम्बे समय तक।

 

तो अब आप यह जान ही चुके होंगे कि वेट लॉस में हाई कैलोरी फूड्स कैसे हमारी मदद करते है। तो आइये जानते है कि वो वजन घटाने में उपयोगी वो हाई कैलोरी फूड्स कौन कौन से हैं:-

 

1. बादाम:- यदि लो फैट की जगह मध्यम फैटयुक्त बादाम का सेवन किया जाए तो यह वेट लॉस में मदद करेगा क्योकि ये दोनों ही फूड्स एक ही तरह की ऊर्जा प्रदान करते है, बस फर्क यह है कि बादाम शरीर को ऊर्जा के साथ साथ जरुरी तत्व भी प्रदान करता है जिससे जरुरी कैलोरी भी मिलती है और भूख भी कम लगती है। बादाम का दूध या बादाम का मक्खन या फिर भोजन में बादाम मिलाकर खाने से शरीर को हैल्दी फैट मिलता है।

2. नारियल:- अधिकतर मोटापा के मामलों में कोलेस्ट्रॉल से जुडी समस्याएँ पाई जाती है। नारियल में एक ऐसा विशेष लिपिड होता है जो रक्त में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को सुधारता है तथा अध्यन में यह पाया भी गया है कि यह मोटापा को कम करने में मददगार है। भोजन के ऊपर नारियल के गुच्छे छिड़क कर या फिर सब्जियों और चिकन को बनाने में नारियल तेल का उपयोग, वजन घटाने में बहुत उपयोगी सिद्ध होता है।

3. केला:- इसमें पेक्टिन नामक पदार्थ पाया जाता है जो हमें अधिक समय तक भूख ना लगने का एहसास दिलाता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट के बराबर ऊर्जा होने के साथ जरुरी तत्व, फाइबर तथा विटामिन्स भी पाए जाते है। इसमें लो ग्लाइसीमिक इंडेक्स भी पाया जाता है। यह सभी गुण इसे वेट लॉस के लिए एक आदर्श फ़ूड बनाते है। वर्कआउट से पहले या बाद में या दोनों ही समय केले का सेवन लाभकारी होता है।

4. ग्रीक योगर्ट:- इसकी प्लेन और फुल फैट वाली विविधता में फैट तथा प्रोटीन अधिक होने के साथ साथ पाचन तथा रोग प्रतिकारक तंत्र को स्वस्थ रखने वाले गुण भी पाए जाते है। इसमें ऊर्जा के लिए जरुरी विटामिन्स भी पाए जाते है। इसलिए यह वेट लॉस में काफी मददगार है। सुबह के नाश्ते में 10 बादाम और आधे केले के साथ साथ एक कप ग्रीक योगर्ट का सेवन वेट लॉस में लाभकारी है।

5. घी:- इसमें शरीर के लिए आवश्यक तथा अच्छे फैट होने के साथ साथ स्वास्थ्यवर्धक कैलोरीज़ भी पाई जाती है जो वजन कम करने में सहायक होता है। इसके लिए एक चम्मच घी रोज खाना चाहिए।

6. सूखा मेवा:- इसमें प्रोटीन्स, फाइबर और गुड फैट्स भरपूर मात्रा में पाए जाते है जो वेट लॉस में काफी मदद करते है और यह अध्ययन से साबित भी हो चुका है। यदि शाम को स्नैक्स के रूप में लो फैट योगर्ट की जगह मुट्ठी भर नट्स ( सूखा मेवा ) का इस्तेमाल किया जाए तो यह वेट लॉस के लिए बेहतर साबित होता है।

7. एवोकाडो:- इसमें ऐसे फैट्स पाए जाते है जो सूजन तथा ह्रदय की बीमारियों को कम करते है। साथ ही इसमें एंटीऑक्सीडेंट तथा लो कोलेस्ट्रॉल के गुण भी पाए जाते है जो इसे वेट लॉस के लिए एक उत्तम विकल्प बनाते है। इसमें फाइबर, विटामिन K,फोलेट और विटामिन B6 जैसे अन्य पौषिक तत्व भी पाए जाते है।

8. पीनट बटर:- हालाँकि प्रोसेस्ड पीनट बटर वजन बढ़ाने में कारक बन सकते है क्योकि इसमें अनावश्यक ट्रान्सफैट व कैलोरीज़ पाई जाती हैं किन्तु यदि घर पर बने पीनट बटर का उपयोग किया जाए तो यह हैल्दी एवं वेट लॉस में सहायक बन जान जाता हैं क्योकि इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन्स होता हैं।

9. अंडे की ज़र्दी:- हालाँकि बहुत से लोग अंडे की सफेदी तथा स्क्रम्बल्ड एग को ही वेट लॉस के लिए जरुरी समझते हैं परन्तु अंडे की जर्दी( एग योक) में चयापचय के कार्य को बढ़ाने वाले सहायक पोषिक तत्व पाए जाते है जिससे अधिक कैलोरीस बर्न होने में सहायता मिलती है जो वेट लॉस के लिए काफी जरुरी है। इसलिए अंडे की जर्दी भी वजन घटाने के लिए अच्छा विकल्प हैं।

10. ऑलिव आयल:- इसमें मोनोअनसैचुरेटेड फैट्स पाया जाता हैं जिससे दिनभर भूख कम लगती हैं जो वेट लॉस में मदद करती हैं। सलाद में या सब्जिया बनाते वक़्त ऑलिव आयल का उपयोग किया जा सकता हैं।

11. फ्लैक्ससीड्स:- इसमें पाए जानेवाले एंटी- इनफ्लेमेटरी गुण वजन घटाने में उपयोगी सिद्ध होते हैं क्योकि यह गुण मेटाबोलिक सिंड्रोम तथा मधुमेह की बीमारियों के खतरे को कम करता हैं। इससे मिलनेवाली 99 % कैलोरीस, इसमें पाई जानेवाली फैट्स से प्राप्त होती है जिससे हम दिनभर ऊर्जावान महसूस करते है और भूख कम लगती है।

इसलिए यदि आपको वेट लॉस करना हैं तो आज से हाई कैलोरी फूड्स से दूर मत भागिए।