देर तक सोने वालों के लिए सुबह जल्दी उठने के उपाय

3131
कैसे-डालें-सुबह-जल्दी-उठने-की-आदत
image credits: Health Cure Naturally

शांत माहौल में ध्यान करना, फिट रहने के लिए समय निकालना, (early morning wake up tips) अपने काम और पढाई की गुणवत्ता बढ़ाना या अन्य लक्ष्य को प्राप्त करना, चाहे आपका ध्येय कुछ भी हो, आपने ज़रूर सुबह जल्दी उठने का प्रयत्न किया होगा। पर ये एक ऐसी आदत है जिसे आसानी से अपने जीवन में शामिल नहीं किया जा सकता। गहरी नींद सोने वालों के लिए तो यह प्रयत्न और भी मुश्किल हो जाता है।

 

इस मुश्किल से निकालने के लिए आपको दो चीज़ों की ज़रूरत है- संकल्प और प्रभावी उपाय। तो आज ही संकल्प लें की कल से सुबह जल्दी उठेंगे और इन उपायों को अपने जीवन में शामिल करें-

How to wake up early in the morning

जल्दी उठने के लिए कारण ढूंढें। सुबह अलार्म बजने पर उठने का कोई कारण न हो तो आपका दिमाग आपको आसानी से बेवकूफ बना सकता है। सुबह उठने का आपका कारण चुनें और रात को सोते समय इसे याद करें।

 

नींद ख़राब करने वाले कारकों से दुरी बनाए। चाय और कॉफी में मौजूद कैफीन तथा शराब आपकी नींद के तरीके में बदलाव ला सकता है जिससे आपकी नींद का चक्र और गुणवत्ता दोनों प्रभावित होते हैं। इनका सेवन कम करने की कोशिश करें।

 

बदलाव आसान बनाएं। अगर आप रोज़ 10-11 बजे उठते हैं तो कल से ही 5 बजे उठना बहुत मुश्किल होगा। इस बदलाव को स्वतः बनाएं। हर कुछ दिनों में सुबह उठने का समय 30 मिनट पहले तय करें और अपने लक्ष्य तक पहुँचें।

 

जवाबदेही बनाएं। अपने लक्ष्य के बारे में अपने माता-पिता, पति/पत्नी या दोस्तों को बताएं। इस तरह लक्ष्य का पालन न कर पाने पर आपकी जवाबदेही बनेगी। तानों और मज़ाक से बचने के लिए तो आप जल्दी उठने की कोशिश करेंगे ही !!

 

देर से उठने का कारण समझें। हो सकता है रात में देर तक काम करना आपको सुबह उठने नहीं देता। या फिर आप अंदर से बीमार या थका हुआ महसूस कर रहे हैं जिससे उबरने के लिए शरीर को अतिरिक्त नींद की ज़रूरत हो। तनाव या अवसाद की वजह से भी जल्दी उठकर समाज का सामना करने से आप कतरा सकते हैं। इन वजहों को समझें और इनसे निपटें।

 

समझें की काम के लिए देर रात जागना प्रभावी नहीं। अक्सर लोग ऑफिस का काम खत्म करने के लिए या पढ़ाई पूरी करने के लिए देर रात तक जगे रहते हैं। यह तरीका सिर्फ आपको सुबह जल्दी उठने से ही नहीं रोकता बल्कि आपकी सेहत पर असर डालकर काम की गुणवत्ता भी घटा देता है।

 

अगले दिन की ऐसी योजना बनाएं जिसमे बदलाव की संभावना न हो। इस तरह सुबह जल्दी उठने का दबाव बनेगा और आप कई ज़रूरी काम भी पुरे कर पाएंगे।

 

अविलंबता की स्थिति बनाएं। ज़रूरी और महत्वपूर्ण कामों को सुबह करने की योजना बनाएं। इन कामों के लिए देर तक जागने की बजाय सुबह उठकर करने की कोशिश करें; इसे विकल्प न बनाकर आवश्यकता बना दें।

 

अपने लक्ष्य को दर्शाने की जगह दें। अपने आस-पास आपके लक्ष्य को याद दिलाता वातावरण होना आपकी मेहनत कम कर देगा। किसी नोटिस बोर्ड पर अपने लक्ष्य को लिखें या कंप्यूटर का वॉलपेपर बना दें। यह आपके चेतन और अचेतन मस्तिष्क को जल्दी उठने के लिए तैयार करेगा।

 

सुबह की सेवाएँ लें। आपके दूध वाले, बाई या माली की सेवाएँ सुबह लेने की कोशिश करें। इस तरह आपको सुबह उठाना ज़रूरी होगा तथा ज़रूरी काम निपटाना आसान हो जाएगा।