केराटिन हेयर ट्रीटमेंट लेने जा रहे हैं तो यह ज़रूर पढ़ें 

231
Image Credits: Hayato Salons
अगर आप भी सीधे और खुबसूरत बाल चाहते हैं तो केराटिन हेयर ट्रीटमेंट आपके लिए सबसे लोकप्रिय समाधान हैं। इसे आप अपने नजदीकी सैलून से ले सकते हैं। पर इस ट्रीटमेंट तो आजमाने से पहले यह ज़रूर जानें-
 
केराटिन क्या है?
यह एक प्रोटीन है जो आपके बालों में प्राकृतिक रूप से मौजूद होता है।
 
यह ट्रीटमेंट कैसे काम करता है?
एक स्टाइलिस्ट आपके बालों पर स्ट्रैटटनिंग प्रोडक्ट लगाते हैं जिसके बाद एक फ्लैटटनिंग आयरन की मदद से इसे बालों में सील कर दिया जाता है। इस प्रक्रिया में 90 मिनट या इससे ज्यादा लगते हैं; यह अवधि आपके बालों की लम्बाई पर निर्भर करती है। इस ट्रीटमेंट के कई विकल्प अलग अलग सैलून आपके सामने रख सकता है।
 
समय की बचत करें 
अगर आप अक्सर बालों को सीधा ही रखते हैं तो यह ट्रीटमेंट लेकर बालों को ब्लो ड्राई करने का समय 40 से 60 प्रतिशत तक घटाया जा सकता है।
 
उलझे बालों से छुटकारा 
इस ट्रीटमेंट के बाद आप उलझे बालों को अलविदा कह सकते हैं। हल्की हवा या हल्की बारिश आपके बालों पर कोई असर नहीं डालेगी।
 
पर बालों को बार बार न धोएं 
इस ट्रीटमेंट को लेने के बाद आपको बालों को बार बार धोना नहीं चाहिए। शैम्पू के बीच में तीन से चार दिनों का अंतर ज़रूर रखें।
 
शैम्पू सही चुनें 
इस ट्रीटमेंट को लेने के बाद कुछ दिन बाल न धोएं जिसके बाद आपको सोडियम सलफेट मुक्त शैम्पू ही उपयोग करना चाहिए।
 
यह ट्रीटमेंट कितने दिन चलता हैं?
इस ट्रीटमेंट के नतीजों का लुत्फ़ आप दो से ढाई महीनों तक उठा सकते हैं।
 
केराटिन ट्रीटमेंट के नुकसान क्या हैं?
यह ट्रीटमेंट आपके बालों को नुक्सान नहीं पहुंचाएगा लेकिन बालों को सीधा करने के लिए उपयोग किये जा रहे आयरन से नुकसान हो सकता है। अगर आपके बाल टूट रहे हैं या दो मुंहे हो रहे हैं तो इसकी वजह आयरन ही है। केराटिन आपके बालों के लिए एक क्षतिपूर्ति का तरीका है इसलिए अगर आपके बाल पूरी तरह से स्वस्थ हैं तो भी यह आपके बालों को खुबसुरत और मजबूत ही बनाएगा। कोशिश करें की ट्रीटमेंट लेने के दौरान स्टाइलिस्ट बहुत गर्म आयरन का उपयोग न करे।
अगर आपको किसी तरह का चर्म रोग है तो इस ट्रीटमेंट को लेने से पहले विशेषज्ञ की सलाह ज़रूर लें।
 
formaldehyde 
आपने अक्सर सैलून के प्रसाधनों में फॉर्मलडिहाइड की मौजूदगी के बारे में सुना होगा। इसे कई स्वास्थ्य समस्याओं से जोड़ा जाता है इसलिए इसका उपयोग कम करने की सलाह दी जाती है। ट्रीटमेंट लेने से पहले स्टाइलिस्ट से उत्पादों में फॉर्मलडिहाइड की मौजूदगी के बारे में पूछें। बेहतर विकल्पों के उपर भी विचार करें। अगर सैलून में अतिरिक्त फॉर्मलडिहाइड मिलाया जाता है तो इस बारे में भी जानें तथा ऐसी प्रक्रिया को मंजूरी न दें।