लंबे, काले और मजबूत बाल पाने के 6 आसान घरेलु उपाय

14139
long-black-hair
image credits: 1freewallpapers.com

आजकल के आधुनिक युग में लोग अक्सर बाजार में आसानी से उपलब्ध सौंदर्य प्रसाधनों का उपयोग करने लगे हैं तथा प्राकृतिक चीजों का चलन दिन- प्रतिदिन भूलने हैं। ऐसा इसलिए भी है कि लोग थोड़ी सी झंझट से बचने के लिए और जल्दी फल की उम्मीद में केमिकल वाले सौंदर्य प्रसाधनों की तरफ आकर्षित होते हैं। लेकिन यह सौंदर्य प्रसाधन जब तक इस्तेमाल करो, सिर्फ तब तक ही असर दिखता हैं और फिर उनके साइड-इफेक्ट्स होने का खतरा तो बना ही रहता है।

इसे भी पढ़ें – अब नहीं होगी रूसी

 

स्वस्थ, घने तथा लंबे बाल होना यह महिलाओं के लिए बहुत ही गर्व की बात होती हैं तथा बालों की वजह से ही उनका सौंदर्य और भी निखरने लगता है। पर आजकल के इस तनावपूर्ण वातावरण में स्त्री हो या पुरूष सभी के बाल जल्दी सफेद होने लगते हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं। जैसे तनाव, शरीर में विटामिन तथा पोषक तत्वों की पर्याप्त पूर्ति न होना, बढती उम्र इत्यादी। पर आजकल हम देखते हैं कि हमारी जो युवापीढी है, उनमें भी अधिकतर लोगों के बाल सफेद हो जाते हैं। तथा बालों को कलर करने की प्रथा का चलन बढते ही जा रहा है। पर बाजार में उपलब्ध होने वाले कलर या ङाई में रासायनिक पदार्थों की अत्याधिक मात्रा पाई जाती हैं जो हमारे बालों के स्वास्थ्य के लिए भविष्य में हानिकारक सिद्ध हो सकती हैं। इन केमिकल्स वाले ङाई को इस्तेमाल करने से बालों का झङना शुरू हो जाता हैं। तथा इन ङाई का अत्याधिक उपयोग करना हमारी आँखों की रोशनी के लिए भी नुकसानदेह साबित हो सकता हैं।

 

इसे भी पढ़ें – डैंड्रफ की समस्या से निपटने के आसान घरेलू उपचार

 

तो क्यों न हम अपने बालों को प्राकृतिक उपायों से काला करे तथा अपने बालों की सुंदरता बढाएं। इन प्राकृतिक चीजों को अपनाने से हमारे बालों पर किसी भी प्रकार दुष्प्रभाव नहीं होता तथा बाजार में उपलब्ध रासायनिक पदार्थों से प्राकृतिक चीजें हमें काफी सस्ती भी पङती हैं।

आइये हम देखते हैं की किस प्रकार प्राकृतिक उपायों को अपनाकर हम अपने बालों को बिना किसी हानी के काला बनाए रख सकते हैं।

1) आँवला – इसके बारे में तो आपको अवश्य ही पता होगा। इसको इस्तेमाल करने से बालों के स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पङता हैं। विभिन्न प्रकार के केश तेलों को बनाने के लिए आँवला का उपयोग बङे पैमाने पर किया जाता हैं। आँवला आपके बालों को चमक प्रदान करता हैं तथा प्राकृतिक रूप से आपके बालों को काला करने में आपकी सहायता करता हैं।
एक कप पानी में दो चम्मच आँवला पावङर तथा थोङासा नींबू का रस मिला लीजिए तथा इस मिश्रण को प्रतिदिन अपने बालों में लगाइये। बालों को काला करने का यह एक बहुत ही बेहतरीन प्राकृतिक उपाय हैं।

 

2) नारंगी का रस – आप सोच रहे होंगे की नारंगी का रस भला किस प्रकार से बालों को काला बनाए रख सकता हैं? जी हाँ यह बिल्कुल सच है कि नारंगी का रस एक बहुत ही प्रभावशाली उपाय माना गया हैं स्वस्थ तथा घने बालों को पाने का। आप नारंगी को छिलकर उसे मसल लीजिए तथा उसमें दो चम्मच आंवला पावङर मिलाइये। तथा इस मिश्रण को अच्छी तरह मिक्स करके अपने बालों में लगाइये। नारंगी में जब आप आंवला पावङर ङालते हैं तो उसका रंग बदल जाता हैं। घने तथा काले बालों को पाने का यह एक बहुत ही प्रभावशाली तरीका हैं।

 

3) नारियल का तेल तथा नीबूं का रस – यह एक बहुत ही पुराना घरेलू उपाय हैं। इसके इस्तेमाल से आपके बाल भी काले होंगे पर साथ ही साथ आपके बालों में रूसी की समस्या दूर हो जाएगी तथा आपके बालों की जङों को भी मजबूती प्रदान होगी। आप एक बर्तन में अपने आवश्यकतानुसार नारियल का तेल लीजिए। तथा उसे गैसपर हल्का गुनगुना होने तक गरम करें। अब इसमें लगभग आधे नींबू का रस निचोङकर ङालिए। अब इस मिश्रण को अच्छी तरह अपने बालों की जङों तक पहुँचे इस प्रकार हल्के हल्के हाथों से लगाइयें। यह उपाय नियमित रूप से करने पर आपके बालों की सफेदी कम होने लगती हैं तथा आपके बाल प्राकृतिक रूप से काले होने लगते हैं।

 

4) बादाम का तेल तथा नींबू का रस – बादाम के तेल में विटामिन ‘ई’ तथा antioxidants अत्याधिक मात्रा में पाया जाता हैं। तथा नींबू में आवश्यक विटामिन पाये जाते हैं। जो बालों के स्वास्थ्य को पोषक तत्व प्रदान करते हैं। तथा उनका स्वास्थ्य बनाए रखते हैं।
दो चम्मच बादाम का तेल तथा दो चम्मच नींबू के रस को एक बर्तन में मिला लिजिए। अब इसे अपने बालों पर अच्छी तरह से लगाइये तथा आधे घंटे तक यूँ ही रहने दें। उसके बाद आप बालों को धो लिजिए।

 

5) कङीपत्ता तथा नारियल का तेल – कङीपत्ता अधिकतर दक्षिण भारतीय लोगों के द्वारा इस्तेमाल किया जाने वाला अत्यंत ही सुगंधित तथा अदभूत खादय-पदार्थ हैं। कङी पत्ते में विटामिन ‘बी’ की अत्याधिक मात्रा पाई जाती हैं। तथा नारियल का तेल हमारे बालों को पोषकतत्व प्रदान करने में बहुत सहायता करता हैं।
एक बर्तन में एक कप नारियल का तेल लीजिए तथा उसमें एक मुठ्ठीभर कङीपत्ता ङालिए । तथा इसे 10 मिनट तक अच्छी तरह से उबालिये। कङीपत्ते का रंग काला होने तक इसे उबालिये। अब इसे आँचपर से उतारकर ठंङा होने दें। अब इसे अपने बालों में अच्छी तरह से लगाएं तथा इसे रातभर लगा रहने दें। अगले दिन शैम्पू से अपने बालों को धो लें। कङीपत्ते का उपयोग आपके बालों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं।

 

6) आँवला और मेथी – आँवले को प्राचीन काल से ही बालों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही सर्वश्रेष्ठ माना गया हैं। आँवला में विटामिन ‘सी’ अधिक मात्रा में पाया जाता हैं, जिससे बालों के सफेद होने की समस्या दूर होने लगती हैं। यदि आप आँवले के साथ साथ मेथी भी इस्तेमाल करे तो, यह आपके बालों के लिए बहुत ही लाभदायक हैं। मेथी के बीज बङी आसानी से हमारे रसोईघर में मिल जाते हैं। मेथी के दानों में विटामिन ‘सी’, आयरन तथा पौटेशियम अत्याधिक मात्रा में पाया जाता हैं। जिनका हमारे बालों पर बहुत ही अच्छा प्रभाव पङता हैं। आँवले का पावङर तथा मेथी के बीजों को पीसकर थोङे से नारियल के तेल में मिक्स करें तथा अपने बालों में लगाएं। यह लगाने से बालों का स्वास्थ्य बना रहता हैं। रूसी की समस्या दूर होने लगती हैं। बालों का गिरना झङना कम होने लगता हैं। तथा बालों को काला बनाए रखने का यह एक सर्वोत्तम प्राकृतिक उपाय हैं।

इन्हें भी पढ़ें –

  1. क्या आपकी भी कम उम्र में बालों के झड़ने से रातों की नींद उड़ी हुई है
  2. जाने क्यों जरूरी है बालों में तेल लगाना, चुनें सही तेल और लगाने का तरीका
  3. केवल महिलाओं को ही नहीं, पुरुषों को भी अपनी लुक के लिए रखना चाहिए बालों का ख्याल

 

Read more on Beauty tips in hindi from most loved website for health tips in hindi