चाहे कोई त्वचा रोग हो या बढ़ानी हो याददाश्त, मोठ का उपयोग साबित होता है कारगार

5511
nut-grass-motha-health-benefits
image credits: ePlants

मोठ जिसे अंग्रेजी में Nut Grass भी कहा जाता है, (ankurit moth ke fayde) को हम सभी हमारे बगीचे में उग रही खरपतवार के रूप में ही जानते है। इसके कंद स्वाद में बेहद कड़वे होते है पर इनके औषधीय गुणों की सूचि बहुत लम्बी है। सदियों से मोठ को चीनी और आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में कई तरह से उपयोग किया जा रहा है। भारत में जड़ो से इत्र बनाकर अरोमाथेरपी में भी उपयोग किया जाता है।

आइये जाने इससे जुडी विविध जानकारियां- Know About Nut Grass

 

मोठ क्या है??

यह अफ्रीका, यूरोप और दक्षिणी एशिया में साल भर पनपने वाला पौधा है। पचास से भी ज़्यादा फसलो को नुकसान पहुचाने का दम रखने वाले इस पौधे को दुनिया का सबसे खतरनाक खरपतवार होने का दर्जा भी हासिल है। इसमें कई पोषक तत्व पाए जाते है। इसी वजह से इसके हिस्सो को कई बीमारियों के इलाज में उपयोग किया जाता है। यहाँ तक की सूखा और भुखमरी होने पर इसे सब्ज़ी की तरह खाया भी जाता है।

 

मोठ से स्वास्थ्य लाभ

चीनी सभ्यता में मोठ को महत्वपूर्ण जीव ऊर्जा सन्तुलित रखने के लिए उपयोग किया जाता है। वहीँ आयुर्वेद इसे पाचन क्रिया से जुडी समस्याओं के निदान में उपयोग करता है।

मोठ के स्वास्थ्य पर सकरात्मक प्रभाव इस प्रकार है-

 


मोठ के उपयोग से जुडी सावधानियां

मोठ का अत्यधिक उपयोग कब्ज़ की शिकायत पैदा कर सकता है। इसका सेवन किसी वैध के परामर्श से ही करें। अगर आपमें ऊर्जा की कमी रहती है, अक्सर थके रहते है तो भी इसका सेवन करने से बचें।

 

मोठ कहाँ पाया जा सकता है??

यह आसानी से आपके आस-पास पाया जा सकता है। पर अगर आपको पहचान नही है, तो जोखिम न उठाएं। आप ऑनलाइन जाकर इसे ढूंढ कर अपने घर बुला सकते है। इसके सेवन से जुडी जानकारियां भी आपको उत्पादक की वेबसाइट पर मिल जाएगी।  फिर भी संदेह हो तो प्रतिष्ठित चिकित्सक से परामर्श लेने से भी हिचकिचाएं नही।