क्या आपके शरीर के बारे में आपकी सोच आपके यौन सम्बन्धों पर असर डाल रही है?

476
Image Credits: AmadorVally Today

मैगज़ीन, बॉलीवुड और मीडिया पिछले कई दशकों से महिलाओं के सौन्दर्य के मानक तय करता रहा है। अक्सर यह मानक वास्तविक नहीं होते लेकिन फिर भी एक महिला को अपने सौन्दर्य के प्रति असहज बना सकते हैं। यकीनन पुरुषों में भी ऐसी असहजता और असुरक्षा घर करती है पर यह यौन सम्बन्धों पर उतना असर नहीं डालती जितना महिलाओं के लिए डालती है।

अपने बारे में बनी इस धारणा के दो पहलु होते हैं-

आप स्वयम को कैसे देखते हैं- अगर आपको लगता है की आप आकर्षक नहीं हैं तो यह आपके आत्मविश्वास को नुक्सान कर सकता है। ऐसे में आप यौन सुख के सम्पूर्ण चक्र में असहज महसूस करते हैं और आनन्द से दूर चले जाते हैं।

दुसरे आपको किस तरह देखते हैं इस बारे में आपकी धारणा- अगर आपको लगता है की आपका साथी आपको खुबसुरत मानता है तो आपका यौन जीवन सुखमय होगा। पर अगर आपको यह लगे की आपके साथी के लिए आप आकर्षक नहीं हैं, चाहे सत्य जो भी हो, तो यह यौन सुख में बाधा बनता है।

अगर आपको भी आकर्षण की कमी महसूस होती है तो इसे कभी भी अपनी नीजी ज़िन्दगी पर असर न डालने दें। इन उपायों को अपनाएं और बेहतर जीवन की ओर बढ़ें-

अपने साथी पर भरोसा करें

कई पुरुष कहते हैं की उनकी साथी उन्हें बेहद आकर्षक लगती है लेकिन वह अपने बारे में ऐसा नहीं मानती तथा उन्हें दी जा रही तारीफों को भी नहीं स्वीकारती। यह एक चिंताजनक और चिढ़ाने वाली अवस्था होती है। अपनी असुरक्षा से निकलकर अपने साथी पर विश्वास करें और अपने सौन्दर्य को उनकी नजरों से देखें।

यौन सम्बन्धों के दौरान नकरात्मक बातों को कम करें 

कोशिश करें की यौन सम्बन्धों के दौरान मन में आने वाले नकरात्मक विचारों को कम करें तथा अपने साथी पर ध्यान दें। स्वयम को याद दिलाएं की आप इस सुख के हक़दार हैं तथा इस सम्बन्ध के द्वारा अपने साथी के और करीब आ सकती हैं।

जाग्रत रहने का अभ्यास करें 

दिन में कुछ मिनट पूरी तरह आज में रहने की कोशिश करें; इस दौरान साँसों पर ध्यान लगाएं, मन्त्र का जाप करें या साधारण संगीत सुनें। इस बीच अगर मन में कोई नकरात्मक विचार आता भी है तो इसे स्वीकार करें, इससे लड़े नहीं।

केगेल करें 

केगेल व्यायाम आपकी अंदरूनी मांसपेशियों की बेहतरीन एक्सरसाइज तो है ही, साथ ही अनचाहे विचारों में भटक रहे मन को एक जगह केन्द्रित करने का भी अच्छा तरीका है। खाली बैठे हैं तो इस व्यायाम का अभ्यास करें और अपना आत्मविश्वास बढाएं।

सांस लेना याद रखें 

अक्सर हम अपनी साँसों के प्रति अनजान रहते हैं, पर आज में वापस लौटने के लिए इनसे अच्छा तरीका कोई नहीं। यौन सम्बन्धों के दौरान अपनी साँसों पर ध्यान देने का अभ्यास करें। दो गहरी साँसें लें तथा शरीर में हो रही हलचल पर ध्यान दें। नकरात्मक विचार दोबारा आने पर फिर से साँसों पर ध्यान लगाएं।

साथी पर ध्यान दें 

यौन सम्बन्धों के दौरान अपने साथी पर ध्यान दें। आपके साथ रहने पर उनके चेहरे पर आए बदलावों पर ध्यान दें तथा आपके साथ की उनकी ख़ुशी को स्वयं महसूस करें।

जानिए असुरक्षित यौन संबंधो से फैलने वाले संक्रमण

पुरुषों में यौन शक्ति बढ़ाए ये आयुर्वेदिक दवाएं