कहीं आप जरूरत से ज्यादा तो एक्सरसाइज़ नहीं कर रहे हैं, हो सकते हैं ओवरट्रैनिंग से यह नुकसान

363

क्या फिटनेस के लिए मेहनत करने से भी दुष्प्रभाव हो सकते हैं? कई बार हम ट्रेनिंग और वर्कआउट में इतने मशगुल हो जाते हैं की अपने शरीर की ज़रूरतों और क्षमताओं पर ध्यान नहीं देते। ऐसा करना कई तरह की समस्याओं का कारण बन सकता है।

आइये जानते हैं कैसे ज़रूरत से ज्यादा ट्रेनिंग आपको नुकसान कर सकती है तथा इससे कैसे बचा जा सकता है-

 

किन संकेतों से जानें की आप ओवरट्रेनिंग कर रहे हैं?

अगर ओवरट्रेनिंग के पहले संकेतों को ही समझ लिया जाए, तो आप कई मुश्किलों से बच सकते हैं। यह संकेत आपको आपका शरीर ही देगा। अगर कुछ दिनों तक जिम करने के बाद भी आप रोजाना अनमने ढंग से जिम पहुँचते हैं तथा जिम के पहले ही थका महसूस करते हैं तो संभावना है की आप ओवरट्रेनिंग कर रहे हैं। साथ ही अगर रोजाना जिम करने के बाद भी आप बेहतर और मजबूत महसूस नहीं कर रहे तो भी आप ओवरट्रेनिंग कर रहे हैं। ऐसा होने पर अपने ट्रेनर से इस सम्बंध में बात ज़रूर करें।

 

ओवरट्रेनिंग के लक्षण 

अगर आप शुरुआती संकेतों को नहीं समझते, तो धीरे-धीरे आपका शरीर ओवरट्रेनिंग के लक्षण दिखाने लगेगा-

 

मांसपेशियों का कमजोर होना

अगर आप किसी सुगठित और गठीले व्यक्ति को देखकर यह सोचते हैं की यह पुरे दिन ट्रेनिंग करता होगा तो आप गलत हैं। इसके विरुद्ध जो लोग ज़रूरत से ज्यादा ट्रेनिंग करते हैं उनमें मांसपेशियों का वजन और गठीलापन घटता चला जाता है। सुगठित शरीर पाने के लिए आपको आराम और ट्रेनिंग के संतुलित होने की ज़रूरत होगी।

करिए स्विस बॉल व्यायाम, जोड़ों व कमर को मजबूत बनाने के लिए

तकलीफ़देह जोड़ 

अगर आपके जोड़ों में अक्सर दर्द रहने लगा है तो आप ओवरट्रेनिंग कर रहे हैं। ऐसा होने पर जल्द ही अपने ट्रेनर को बताएं तथा वर्कआउट में बदलाव कर शरीर के उपयोग पर ध्यान देना शुरू करें। ध्यान रहे इस लक्षण को नज़रंदाज़ करने पर आपको जल्द ही जोड़ों के रोग हो सकते हैं।

 

अनिद्रा 

अगर आप ओवरट्रेनिंग कर रहे हैं तो आपके नींद में बदलाव आ सकता है। हो सकता है आप रात भर न सो पाएं, या फिर सोने और उठने का समय अवांछित रूप से बदलने लग जाए।

 

बीमार पड़ना 

व्यायाम का उद्देश्य शरीर को स्वस्थ रखना है, पर अगर गलत तरह से व्यायाम किया जाए तो यही रोगों का कारण बन सकता है। ओवरट्रेनिंग से आप थका हुआ, आलस से भरा तथा कमजोर महसूस कर सकते हैं। वर्कआउट की शुरुआत में मांसपेशियों में थोड़ी तकलीफ सामान्य है, पर अगर यह बढने लगे या बरकरार रहे तो यह ओवरट्रेनिंग का लक्षण हो सकता है।

कमर और बाज़ू की अतिरिक्त वसा हटाने के लिए व्यायाम व योग

वर्कआउट पूरा न कर पाना 

यह अक्सर विडियो से ट्रेनिंग करने वालों के साथ होता है। अगर आप किसी वर्कआउट प्लान को शुरू करते हैं लेकिन इसकी अवधि खत्म होने के पहले ही बेहद थक चुके होते हैं तो यह वर्कआउट आपकी क्षमता के बाहर है। समय के साथ आप इसकी अवधि को पूरा कर सकते हैं लेकिन अगर ऐसा न हो पाए तो आप ओवरट्रेनिंग कर रहे हैं।

बहुत लम्बे वर्कआउट रूटीन रखना, किसी और की क्षमता के अनुसार बने प्लान का पालन करना, खुद को बहुत बड़ी चुनौती देना, बहुत सारे सेट करना, खुद के लिए काल्पनिक लक्ष्य तय कर देना, नींद पूरी न होना, आहार शैली सही न होना तथा आराम पर ध्यान न देना आपकी ओवर ट्रेनिंग की वजह हो सकते हैं। इन्हें पहचाने तथा ज़रूरी कदम उठाकर शरीर को सेहतमंद बनाएं।