जानें लम्बा जीवन जीने का राज़ 

230
Image credits: Framepool

हर व्यक्ति स्वस्थ, जीवंत, उर्जावान और लम्बा जीवन जी सकता है। पर आखिर ऐसे जीवन को पाने का तरीका क्या है? आइये जानते हैं, किन उपायों से समृद्ध जीवन पाया जा सकता है और आपके खाने से लेकर आपके जूतों तक का इसमें क्या महत्व है-

कम कैलोरीज लेकिन ज्यादा आहार खाएं 

जी हाँ, आपने सही पढ़ा। खाने में कैलोरीज कम कर देने तथा वजन कम करने से आपका स्वास्थ्य बेहतर होता है तथा उम्र बढने की रफ़्तार कम होती है। पर अच्छे स्वास्थ्य का रास्ता आपके पेट और मन भरने से भी जाता है। अपनी थाली में भरपूर फल, सब्जियों और फल्लियों को शामिल करने से आपके शरीर को भरपूर पोषण और एंटीऑक्सीडेंट मिलते हैं और आप एक सुखद तथा सक्रीय जीवन जीते हैं।

एक्सरसाइज को उम्र बढ़ने से बचने का टीकाकरण समझें 

जैसे जैसे उम्र बढती है, एक्सरसाइज आपको बेहतर जीवन पाने में मदद करती है। यह शरीर को सुगठित बनाती है, कैलोरीज जलाती है तथा आपके शरीर को हल्का महसूस करवाती है। पर हाल ही में शोधकर्ताओं ने पाया है की एक्सरसाइज उम्र बढने की रफ़्तार कम करने के लिए बेहद प्रभावी टीके के रूप में भी काम करती है।

दूसरी ओर एक्सरसाइज न करने से आपको दिल का दौरा पड़ने की संभावना दुगनी हो सकती है। पर अब भी देर नहीं हुई है; रोज़ाना सिर्फ 30 मिनट व्यायाम करने से आप आपके दिल और नसों की रक्षा होती है।

कुछ रोचक ढूंढें 

जीवन में व्यस्तता हमेशा बनी रहती है। पर आप किसी भी उम्र में हों, दिन या हफ्ते में कुछ समय हमें चुनने का मौका मिलता है; आराम करने, टीवी देखने या बाहर खाने की जगह आप इस समय को अपनी रूचि में लगाकर अपनी कला को निखार सकते हैं।

ऐसा करने से क्या लाभ है? कैलिफ़ोर्निया में हुए एक शोध में देखा गया की 60 की उम्र के बाद वो ही लोग अपने जीवन से संतुष्ट थे जो अपने जीवन में रुचियों और आशावान नजरिये को जगह देते थे। गौर करने वाली बात यह थी की अच्छा स्वास्थ्य या जीवन के सारे सुखों का होना उनकी संतुष्टि पर प्रभाव नहीं डाल रहा था। ऐसा तनाव रहित जीवन हमें लम्बी आयु और संतुष्टि देता है।

दोस्त और परिवार से मिलें 

गहरे रिश्ते जीवन में हमेशा ख़ुशी की वजह बनते हैं। समय के साथ यही ख़ुशी और संतुष्टि आपको कई स्वास्थ्य समस्याओं से बचा सकती है, आपके दिमाग पर सकरात्मक प्रभाव डालती है तथा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाती है।

जब आप लम्बे समय के लिए अकेले रहते हैं तो शरीर में तनाव बढ़ता है, ह्रदय रोग की संभावना बढने लगती है, अवसाद, रक्तचाप आदि बढने लगते हैं तथा आपके शरीर में खुश रहने वाले हॉर्मोन का स्तर कम हो जाता है।

अपने दिमाग को सकरात्मक सोच की दिशा दें 

अपने दिमाग को सकरात्मक और लाभदायक दिशा में लगाने पर आपको मानसिक परेशानियों की समस्या नहीं रहती। जो लोग अपने दिमाग को ज्यादा उपयोग करते हैं- चाहे वह खेल में हो या काम में, उनके दिमाग में एक ही याद तक पहुँचने के कई रास्ते बनते जाते हैं जिससे आगे जाकर उन्हें याददाश्त आदि की समस्या नहीं होती। अपने शरीर की मांसपेशियों की तरह ही दिमाग पर भी रोजाना सही तरह से जोर डालना आपको एक ताकतवर, स्वस्थ और तेज़ दिमाग देता है।

 पढ़ें यह भी –