मधुमेह में सपरेटा दूध (मक्खन निकला दूध) के फायदे

15760
diabetes-tonned-milk-cure
image credit: i.dailymail.co.uk

मधुमेह को सामान्य भाषा में पेशाब मे शक्कर (sugar) आना भी कहते हैं। आजकल अनुचित दिनचर्या के कारण, ज्यादातर लोगों को 40 की उम्र तक पहुंचते-पहुंचते मधुमेह (diabetes) की शिकायत हो जाती है।

 

मनुष्य के शरीर में विभिन्न प्रकार के हारमोन तत्व बनते रहते हैं। लेकिन जब कभी इन्सुलिन नामक हारमोन उचित मात्रा में नही बनता तो भोजन के साथ ली जाने वाली शक्कर ठीक प्रकार से पाचन क्रिया की सीमा में नहीं आ पाती। इसके फलस्वरुप उसमें से शक्कर का कुछ अंश मूत्र के साथ बाहर आ जाता है। इसमें हड्डियां खोखली तथा कमजोर पड़ जाती हैं।

 

घर बैठे आप आसानी से जान सकते हैं कि कहीं आपको Diabetes तो नहीं और करें तुरंत कंट्रोल सही आहार और घरेलू नुस्खों द्वारा

 

मधुमेह रोगियों को केवल सपरेटा दूध (मक्खन निकला दूध) का सेवन करना चाहिए, इसमें कैलोरी और फैट की मात्रा काफी कम होती है। हो सके तो गाय का शुद्ध सपरेटा दूध का ही प्रयोग करें। यहाँ हम आपको बताने जा रहे हैं कि किस प्रकार आप सपरेटा दूध (मक्खन निकला दूध) का इस्तेमाल कर रख सकते हैं शुगर लेवल कंट्रोल में –

 

  1. गाय का शुद्ध सपरेटा दूध सुबह-शाम पीने से मधुमेह से छुटकारा मिलता है।

2. सपरेटा दूध 200 ग्राम, जामुन के बीज की गिरी का चूर्ण आधा चम्मच तथा शहद आधा चम्मच– इन तीनों का सेवन दिन में दो बार करने से मधुमेह में लाभ होता है।

3. सपरेटा दूध में दो चम्मच करेले का रस मिलाकर पी जाएं।

4. सपरेटा दूध में दो लाल चम्मच इलायची का चूर्ण डालकर शाम को सेवन करें।

5. बेल के चार पत्तों को पीसकर सपरेटा दूध में मिला लें। फिर दूध को घूंट-घूंट पी जाएं। इसके बाद थोड़े समय तक कुछ और ना खाएं।

पढ़ें यह भी –

  1. दूध और तेलों में इस तरह पहचानें मिलावट
  2. केसर बादाम दूध बनाने की विधि तथा इसके फायदे
  3. जानिए क्यों नुकसानदायक है छोटे बच्चों को गाय का दूध पिलाना
  4. बादाम का दूध पीने के स्वास्थ्यवर्द्धक फायदे
  5. नारियल दूध भी हो सकता है गाय-भैंस के दूध का एक विकल्प