वीट-ग्रास के गुण – 1 गिलास जूस रखे तमाम रक्त विकारों को दूर

5156
wheatgrass-juice-benefits
image credits: www.peteswheatgrass.com

वीट-ग्रास (गेंहू की घास – Wheat Grass) के जमीन के ऊपर वाले हिस्से, मूल तथा कंद इत्यादि दवा के रूप में प्रयोग किये जाते हैं। (wheatgrass juice benefits for cancer in hindi) वीट-ग्रास को पौष्टिक तत्वों से परिपूर्ण श्रोत माना जाता है। इसमें विटामिन A, विटामिन C, विटामिन E, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम तथा एमिनो एसिड पाया जाता है। इसके प्रयोग से हीमोग्लोबिन का उत्पादन बढ़ता है, खून में शर्करा की मात्रा नियंत्रित होती है तथा बैक्टीरिया के संक्रमण से शरीर की रक्षा होती है। वीट-ग्रास कैंसर तथा आर्थेराईटिस में वैकल्पिक उपचार की तरह प्रयोग की जाती है। वीट-ग्रास का जूस प्रचलित पेय पदार्थ है। ऐसा माना जाता है कि सुबह नित्य क्रिया के बाद इसे ताजा खाली पेट पीना ही फायदेमंद होता है। परन्तु इस कथन के कोई प्रमाण मौजूद नही हैं। वीट-ग्रास में कई केमिकल होते है जो कि ऑक्सीकरण-रोधी तथा दाहक होते हैं। इसमें बैक्टीरिया को नष्ट करने वाले केमिकल भी पाए जाते है।

आइये जानते है वीट-ग्रास को उपयोग करने के कुछ सरल तथा महत्वपूर्ण तरीके –

1. रक्त विकार को बीटा-थैलेसेमिया नाम से जाना जाता है। इस बीमारी में वीट-ग्रास का एक गिलास जूस 18 महीनों तक रोज पीने से ये बच्चों में रक्ताधान की आवश्यकता को घटा देती है।

2. एड़ियों के दर्द में वीट-ग्रास की क्रीम बना कर लगाने से आराम मिलता है।

3. यह सूजन रोधी होती है।

4. कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करती है।

5. दांतों की सड़न रोकती है।

6. विषैले तथा कैंसरकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालती है।

वीट-ग्रास के दुष्प्रभाव-

वीट-ग्रास को खाद्य पदार्थ की तरह 18 महीनों तक उपयोग करना तथा त्वचा पर क्रीम की तरह 6 हफ़्तों तक उपयोग करना सुरक्षित है। अन्यथा इससे उबकाई, भूख की कमी तथा कब्ज जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

सावधानी तथा चेतावनी-
सावधानी के तौर पर गर्भावस्था तथा स्तनपान के समय वीट-ग्रास के प्रयोग से बचना चाहिए।

वीट-ग्रास की खुराक-

वीट-ग्रास की खुराक उपयोग करने वाले की आयु, स्वास्थ्य तथा अन्य कई चीजो पर निर्भर हो सकती है। ध्यान रखें कि हर प्राकृतिक चीज हमेशा फायदा ही करे जरुरी नही है। इसलिए उपयोग करने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ले लें।